आयुर्वेदआरोग्यपरंपरामहिला स्वास्थलाईफ स्टाइल

प्रेग्नन्ट महिला को नहीं करने चाहिए ये 7 काम

गर्भावस्था एक ऐसी अवस्था है, जिसमें एक महिला के गर्भ या गर्भाशय के अंदर भ्रूण विकसित होता है। जिसका अर्थ है कि वह मां बनने वाली हैं। मां बनने की खबर सुनकर हर औरत खुशी से झूम उठती है। लेकिन इस स्थिति में उनको बहुत ख्याल रखना पड़ता है। गर्भावस्था में भूलकर भी ना करें यह काम प्रेगनेंट महिलाओं को बिलकुल नहीं करने चाहिए घर के ये काम

छोटी सी गलती भी एक गर्भवती महिला के लिए ठीक नहीं होता है। इसलिए ऐसे समय में बहुत केयर की जरूरत होती है।

क्या-क्या नहीं करना चाहिए गर्भावस्था में?

गर्भावस्था में भूलकर भी ना करें यह काम 

अल्कोहल से करें परहेज

यदि कोई महिला गर्भवती है और वह अल्कोहल की शौकीन है। तो उन्हें इस अवस्था में बिल्कुल भी अल्कोहल नहीं पीना चाहिए। प्रेगनेंसी केयर टिप्स

डॉक्टर के परामर्श के बिना कोई दवा ना लें

मां बनने के दौरान यदि महिला बीमार पड़ती हैं। या उन्हें सर्दी जुकाम होता है। उस वक्त भी वह अपनी इच्छा अनुसार कोई दवा नहीं ले सकती हैं। डॉक्टर के सलाह परामर्श के बाद ही उन्हें दवा लेना चाहिए।

पपीता खाने से बचना चाहिए

गर्भावस्था में एक महिला को पपीता खाने से बचना चाहिए। पपीता से गर्भ नष्ट होने का खतरा रहता है। इसलिए पपीता कच्चा हो या पक्का नहीं खाना चाहिए।

पैकेट फूड खाने एवं पैकेट जूस पीने से बचें

एक गर्भवती महिला को कभी भी प्रेगनेंसी के दौरान पैकेट वाले फूड या पैकेट वाला जूस नहीं पीना चाहिए। कारण पैकेट फूड या पैकेट जूस कब बनता है, कैसे बनता है। यह किसी को भी ठीक से नहीं पता होता है। इसलिए पैकेट फूड ना खाने की सलाह डॉक्टर भी देते हैं। जितना हो सके फ्रेश फ्रूट जूस एवं फ्रेश खाना खाना चाहिए। वही बच्चे के लिए एवं मां दोनों के लिए ठीक रहता है।

पेट में प्रेशर देने वाले व्यायाम नहीं करने चाहिए

बहुत सारे लोग ऐसा कहते हैं कि एक गर्भवती महिला को कभी भी प्राणायाम नहीं करना चाहिए। लेकिन वह गलत कहते हैं।

प्राणायाम करने से या व्यायाम करने से गर्भवती महिला की डिलीवरी नॉर्मल होती है। योगा करना चाहिए लेकिन कुछ ऐसे प्राणायाम भी होते है।  

जिन्हें करने से पेट पर दबाव पड़ता है। ऐसे योग को करने से बचना चाहिए। जरूरत पड़े तो योगा एक्सपर्ट की सलाह लेकर ही प्राणायाम करें अन्यथा नहीं।

पत्तेदार सब्जी खाने से बचें

पत्तेदार सब्जियों में बहुत ज्यादा कीड़े होने की संभावना होती है। जो अक्सर खाना पका कर खाने के बाद भी नहीं जाते हैं। जिनसे हमेशा खतरा रहता है।

खासकर गर्भवती महिलाओं को, इसलिए प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिलाओं को पत्तेदार सब्जी जैसे पत्ता गोभी खाने से बचना चाहिए।

स्ट्रेस लेने से बचना चाहिए

गर्भावस्था में महिलाओं को हमेशा खुश रहना चाहिए। कोशिश करनी चाहिए कि जितना हो सके वह खुश रहें। थोड़ा सा भी स्ट्रेस उनके प्रेगनेंसी पर बुरा असर ला सकता है।

कभी भी ज्यादा शरीर को आराम नहीं देना चाहिए

गर्भावस्था में जितना हो सके हल्का-फुल्का हाथ पैर चलाना ही चाहिए। आप गर्भवती हैं इसका मतलब यह नहीं कि आप चौबीसों घंटे बेड रेस्ट करेंगी। 

ज्यादा लेटे रहने से भी बच्चे पर उसका बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए अपने हाथ पैर को हमेशा चलाते रहना चाहिए।इस तरह से गर्भावस्था में हर गर्भवती महिलाओं को अपना विशेष ख्याल रखना चाहिए। मां बनना कोई आसान काम नहीं है।

गर्भावस्था के 9 महीने में एक महिला को बहुत अच्छे से अपना ख्याल रखना होता है। ताकि उसके बच्चे को वह आसानी से दुनिया में ला सकें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.