आरोग्यइतिहासधार्मिकभविष्यवास्तुशास्त्र

बनते-बनते बिगड़ती है शादी की बात, तो करें ये उपाय

बनते-बनते बिगड़ती है शादी की बात?

शादी करने का सपना हर इंसान दिखता है। यदि उसी सपने में पानी फिर जाएं। तो बहुत दुख होता है। यदि आप उन व्यक्तियों में से हैं। जिनकी शादी की बात हो रही है। लेकिन शादी का रिश्ता टूट जा रहा है। आप शादी का रिश्ता जोड़ना चाहते हैं। मगर बार-बार रिश्ता टूट जाने के कारण आपका मन अब उदास हो चुका है।

ज्योतिष शास्त्र में आपके इस समस्या का समाधान है। यदि आप वास्तव में शादी करना चाहते हैं। तो हमारे द्वारा दिए गए उपाय को अवश्य ही अपनाएं। इससे आप का लाभ ही होगा।

खाने में केसर को अवश्य शामिल करें

यदि आपके विवाह संबंध जुड़ने में बाधा उत्पन्न हो रही है। इसके लिए आप अपने खाने में केसर युक्त सामान को शामिल करें। यदि आप केसर खरीद कर खा नहीं सकते। तो कोई बात नहीं। यदि किसी भी खाने के समान में केसर मिला हुआ होगा। तो आप उस खाने की वस्तु को भी खा सकते हैं। जैसे- रसमलाई, केसर वाला दूध आदि।

पीले कपड़े पहने शादी की बात बन जायेगी

यदि आप शादी करना चाहते हैं और आपका शादी का रिश्ता तय होते-होते भी नहीं हो रहा है। तो इसके लिए आपको उपाय करना है। ज्योतिष शास्त्र में कहा जाता है। यदि कोई व्यक्ति पीला कपड़ा ज्यादा पहनता हैं। तो उसका विवाह सही समय पर। सही इंसान के साथ हो जाता है। यदि आप पीले कपड़े नहीं पहनते। तो आज से ही पीला कपड़ा पहनना आरंभ कर दीजिए। यदि आप रोज पीले कपड़े पहनते हैं, तो अच्छी बात है। यदि आप रोज पीले कपड़े नहीं पहन सकते। तो कम से कम हफ्ते में एक दिन गुरुवार के दिन अवश्य ही पीला वस्त्र धारण करें।

आटे का पेड़ा गाय को खिलाएं

यदि आप चाहते हैं कि आपकी शादी का रिश्ता तय होते वक्त किसी भी प्रकार की कोई समस्या या बाधा उत्पन्न ना हो। तो इसके लिए गुरुवार के दिन अपने हाथों से आटे का पेड़ा बनाइए और उस पेड़े में थोड़ा सा हल्दी डालकर गाय को खिलाइए। इससे आपके शादी में जो भी बाधा उत्पन्न वाली होगी वह उत्पन्न नहीं होगी।

नहाने के पानी में हल्दी का प्रयोग करें

आमतौर पर शादी में आने वाले बांधा के लिए बृहस्पति जिम्मेदार होते हैं। बृहस्पति को मजबूत बनाने के लिए रोजाना स्नान करने से पहले पानी में हल्दी मिलाकर नहाएं। 

शादी की मेहंदी जरूर लगाएं 

आपके मित्र के शादी के मेहंदी रस्म में आपको बुलाया गया है। तो उस रस्म में अवश्य जाइए क्योंकि आपका सौभाग्य उस रस्म से जुड़ा हुआ होता है। कहां जाता है कि यदि किसी की शादी होती है और उस व्यक्ति के मेहंदी के रस्म में यदि कोई कुंवारा व्यक्ति शामिल हो तो। उस व्यक्ति की भी शादी हो जाती है। यदि कुंवारा व्यक्ति होने वाले वर या वधू के मेहंदी से थोड़ा सा मेहंदी अपने हाथ में लगाता है। तो उसकी शादी में किसी प्रकार की कोई बाधा नहीं आती है।

बनते-बनते नहीं बिगडेगी अब शादी की बात

शादी में जो भी बाधाएं उत्पन्न होती है। वह सभी बाधाओं के लिए बृहस्पति ग्रह जिम्मेदार होते हैं। इन सभी उपायों के अतिरिक्त प्रत्येक गुरुवार के दिन उपवास रखिए। बृहस्पति भगवान की पूजा कीजिए एवं पीले वस्त्र अवश्य ही गुरुवार के दिन धारण कीजिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.