आरोग्यपुरुष स्वास्थमहिला स्वास्थलाईफ स्टाइल

इम्यूनिटी कमजोर है या नहीं कैसे पहचानू ? weak immune system signs

मै विधवा महिला हु। एक बेटे के अलावा दुनिया में मेरा कोई भी नहीं है। weak immune system signs

मेरा बेटा 9 वी कक्षा में पढ़ रहा है। वह बार बार बीमार पड़ता है। डॉक्टर इसे साधारण वायरल

इन्फेक्शन बताते है। मगर हर बार ये कैसे संभव हो सकता है ?इस पेंडमिक पीरियड में बीमार

पड़ने पर मुझे बहुत डर लगता है। डॉक्टर के पास जाने से भी डर लगता है। कहीं वो उसको

पोसीटिव न घोषित करें। प्लीज मुझे बताए की कैसे पता चलेगा की उसकी इम्यून सिस्टम कमजोर है

या कोई दूसरा ही कारण है ? प्लीज मुझे बताएं

आप इम्यूनिटी सिस्टीम के बारे में सबसे पहले जान लें। आपको सबकुछ पता चल जाएगा। फिर भी आप

डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

इम्यून सिस्टम / प्रतिरक्षा प्रणाली / immune system

इम्यून सिस्टम या प्रतिरक्षा प्रणाली हमारे शरीर को सुरक्षित करने का एक प्रकार का सिस्टम है| यह है

पर्यावरण के हानिकारक प्रभावों से हमें बचाता है| अगर हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत हो तो हम

किसी भी तरह की बीमारियों के चपेट नही आते| अगर बीमार पड़ भी जाये तो जल्दी ही ठीक हो जाते है|

इसलिए हमारी इम्यून सिस्टम का सक्रिय रहना बेहद ही जरूरी है|

अगर इम्यूनिटी मजबूत है तो हम सर्दी, खांसी, बुखार आदी से बीमारियों से आसानीसे बच जाते है|

साथ ही इनफेक्शन, हेपैटाइटिस,  किडनी इनफेक्शन आदी कई बीमारियों से भी हमारा बचाव होता है|

हमारी इम्यून सिस्टम कितनी मजबूत है इसका पता हम ब्लड रिपोर्ट से जान सकते हैं| पर उसके साथ साथ

हमारा शरीर भी हमें कई तरीकोंसे इसके बारे में बताता है|

ऐसे जानले की इम्यून सिस्टम कमजोर है weak-immune-system-signs


बार-बार बीमार होना constantly became sick

कुछ लोग थोडा सा मौसम बदलने पर भी बीमार हो जाते हैं| मौसम बदलने पर शरीर का तापमान बदलता है|

अच्छी इम्यून सिस्टम के लिए नॉर्मल शरीर का तापमान ३७ डिग्री होना चाहिए| हररोज व्यायाम करने से

आप अपनी इम्यूनिटी को बढ़ा सकते हैं|

अगर आप दूसरे लोगों की अपेक्षा ज्यादा बीमार रहते हैं|  सर्दी, जुकाम आदी की समस्या रहती है|

आपको खांसी होना, गला खराब होना, या त्वचा पर रैशेज जैसी समस्या रहती है| तो यह बहुत

ज्यादा संभव है कि आपकी इम्यून सिस्टम कमजोर है|

पॉजिटिव कैंडिडा टेस्ट, मसूड़ों में सूजन, बार-बार यूटीआई, डायरिया, मुंह में छाले आदी भी कमजोर इम्यूनिटी के लक्षण हैं|

विटमिन डी की कमी Vitamin D Deficiency

विटमिन डी से इम्यूनिटी बढ़ती है| ज्यादातर लोगों में विटामिन डी की कमी पाई जाती है|

अगर आपके शरीर में विटमिन डी की कमी है, तो आपको निन्मलिखित परेशानीयों का सामना करना पड़ सकता है|

लगातार थकान, आलस, लम्बे समय तक घाव ना भरना, नींद न आना, डार्क सर्कल, डिप्रेशन आदी|

यह सभी लक्षण भी कमजोर इम्यून सिस्टम की निशानी है|

बुखार ना आना No Fever

शरीर को बुखार आने की जरूरत होने पर भी अगर बुखार ना आए, तो इसका अर्थ है कि

आपकी इम्यून सिस्टम कमजोर है|

जब भी आपको कोई संक्रमण घेर लेता है| तब बुखार आता है| यह हमारे शरीर के लिए बेहद जरुरी है|

इस समय हमारा शरीर बीमारियों से लड़ रहा होता है| और इस प्रक्रिया में शरीर का तापमान बढ़ने

की वजह से हमें बुखार आता है|

अगर आपको संक्रमण की बीमारीया जैसे की सर्दी आदी होने के बाद भी कई साल से बुखार नहीं

आया है तो यह आपकी कमजोर इम्यूनिटी का लक्षण है|

निवेदन: इस पोस्ट को अपने सोशल मीडिया पर जरुर शेअर करे ताकि दूसरों को भी इसका फायदा हो सके|

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.