तनावनिजी सीक्रेटलाईफ स्टाइलसलाह / मार्गदर्शन

मै थक चुकी हु। पति रात को शराबी दोस्तों को घर बुलाकर पार्टी करता है।

मै थक चुकी हु। पति रात को शराबी दोस्तों को घर बुलाकर पार्टी करता है।, खुल्लमखुल्ला शराब भी पीते है,

रात को 2 बजे भी रोटियां बनाने को बोलता है। उनके सामने अपमानित भी करता है। मारपीट भी करता है।

मेरा नाम सावित्री है। मैंने एम ए किया है। शादी के बाद से मै नौकरी नहीं करती हु। घरवालों को लगता है,

की मै घर में निकम्मी ही हु। सांस और ननद मुझसे सारा काम करवाती है। जरा भी बैठने तक की फुरसत नहीं देती ।

पति भी शराब पिनेवाले दोस्तों को रात में घर बुलाकर पार्टी करता है, रात को कितना भी समय हो, मुझे खाना पकाने

से लेकर साफ़सफ़ाई तक सब काम करने ही पड़ते है। फिर सुबह उठने को देर हुई तो सांस या ननद चिल्लाना शुरू

करती है। मै तंग आ गई हु। क्या करू ?

हमारी सलाह : मै थक चुकी हु। पति रात को शराबी दोस्तों को घर बुलाकर पार्टी करता है।

शराब एक ऐसी बुरी लत है। जिसे पीने वाला व्यक्ति जब पीता है तो वह अपनी दुनिया में मस्त हो जाता है। उसे यह तक पता नहीं होता है कि वह क्या कर रहा है, किसके साथ कर रह है एवं क्यों कर रहा है।

आपके पति आपके साथ जो हरकत कर रहे हैं। यह बिल्कुल भी सहन करने लायक नहीं है।

आप कैसे सहन कर रही है यह मुझे नहीं पता। चिंता ना करें हम आपको आपके सवाल का जवाब जरूर देंगे।

पति को सच से रूबारू करवाइए

अक्सर शराबी लोगों को होश नहीं रहता है। रात बेरात जब मन करे आपको उठाकर रोटी बनवाएं।

यह किसी भी कानून में अन्याय ही है। आपको इसे अन्याय के खिलाफ आवाज उठाना है।

जब आपके पति आपके साथ बदसलूकी करें या आपको परेशान करे। तो उनका वीडियो रिकॉर्ड कर लिजिए।

जब आपके पति होश में रहे। तब उनसे कहिए कि आप उनकी पत्नी है। उनकी अर्धांगिनी है।

लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप उनकी गुलामी करेंगी। यदि पति पूछे कि आप ऐसे क्यों कह रही है।

तब आप कहिएगा कि वह शराब के नशे में आपके साथ क्या-क्या आचरण करते हैं।

सबूत के तौर पर आप उस वीडियो रिकॉर्डिंग का इस्तेमाल करें जिसे आप रिकॉर्ड करके रखी है।

तब जाकर उन्हें समझ आएगा कि वह आपक के साथ क्या करते हैं।

पति के दोस्तों को भगा दीजिए

अक्सर पति के दोस्त लोग बदमाश होते हैं जो जबरदस्ती पिला देते हैं।

यदि आपके पति के दोस्त भी ऐसे ही हैं तो उन्हें भगा दीजिए अपने पति के जीवन से।

यदि दोस्त ही नहीं रहेंगे तो आपके पति शराब पीने की हिम्मत भी नहीं करेंगे।

जब आपके पति शराब नहीं पिएंगे तो आपको भी रात के 2:00 बजे परेशानी नहीं होगी।

जब भी आपके पति के दोस्त घर पर आए तो उन्हें किसी ना किसी बहाने से भगा दीजिए।

कहिए की आपके पति घर पर नहीं है। जब वह घर पर रह तो ही आए और जब वह आपके पति को फोन करने की कोशिश करें।

तो आपके पति के फोन पर उनका नंबर रिजेक्ट लिस्ट में डाल दिजिए।

अत्याचार यदि बंद ना हो तो तलाक लीजिए

देखिए गलत को सहना गलत करने वालों से भी बड़ा अपराध है। कितने दिन आप ऐसे अपराधों को सहन करेंगी।

इसलिए यदि आवाज उठाने के बाद भी आप पर होने वाला अत्याचार कम नहीं हो रहा है।

तो सीधे-सीधे तलाक ले लिजिए। हो सकता है की आपके पति आपसे तलाक ना ले। वह साइन ना करें

लेकिन आपके पास यदि सबूत रहेगा  कि आपके साथ क्या-क्या होता है। तो अदालत आपके तलाक

को मंजूर कर देगा। आप पर अनावश्यक अत्याचार करने के जुर्म में उन्हें दो-तीन महीने या 10 साल

की सजा भी हो सकती हैं। देखिए हम सिर्फ कोशिश कर सकते हैं।

लेकिन यदि सामने वाला व्यक्ति ही सुधारने की कोशिश ना करें तो कुछ भी नहीं किया जा सकता।

यदि आपके पति थोड़ा सा भी आपसे प्यार करते हैं। तो आपके जज्बातों को, आपकी बातों को समझने की कोशिश करेंगे।

यदि आप के मना करने के बाद भी वह नहीं रुक रहे हैं। तो इसका अर्थ यह है कि वह आपसे ज्यादा शराब से प्यार करते हैं।

ऐसे व्यक्ति से और कुछ उम्मीद भी नहीं किया जा सकता कि वह जिंदगी में कभी सुधरेंगे।

इसलिए अपने पति के बंधन से मुक्ति पाने के लिए आपको तलाक का ही रास्ता चुनना होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.