इतिहासतनावभविष्यमहिला स्वास्थवास्तुशास्त्रस्पेशल

मकर राशि की महिला करती है ये गंदे काम

मकर राशि वाली लड़कियां आमतौर पर व्यावहारिक, स्वतंत्र और आत्मनिर्भर होती हैं। यह खूब किताबें पढ़ती है, ताकि उन्हें ज्यादा से ज्यादा विषयों का ज्ञान हो सकें। यह दुनिया के बारे में सब कुछ जानना चाहती हैं। अच्छी आदतें तो इनमें होती हैं। लेकिन इनके अंदर कुछ बुरी आदत भी होती है। जिसके बारे में सुनने के बाद आप इनके बारे में कभी भी अच्छा नहीं सोचेंगे।

यह कभी भी किसी पर दया नहीं करती हैं

मकर राशि के स्वामी मयंक शनिदेव होते हैं। इसलिए यह बहुत ही कायदे एवं कानून वादी महिला होती हैं। यदि इनके सामने कोई गलत करता है और उसकी माफ़ी मांगता है। तो यह बिल्कुल भी उन्हें माफ़ नहीं करती हैं। 

कारण इनके लिए गलत व्यक्ति हमेशा गलत ही होता है। लाख व्यक्ति माफी मांग लें लेकिन वह व्यक्ति इनके लिए कभी सही नहीं हो सकता।

हमेशा लोगों को गलत समझती है

जब इन्हें कोई एक बार धोखा दे देता है। तो उस वक्त से लेकर अपने मृत्यु के समय तक यह कभी भी किसी भी व्यक्ति को सही नहीं समझती हैं। यह इनकी सबसे बड़ी गंदी आदतों में से एक हैं। धोखा खाने के बाद इनको दुनिया के सभी व्यक्ति एक जैसे ही समझ में आते हैं।

इनके जीवन में हर आने वाले व्यक्ति को परीक्षा देनी होती है। इनका विश्वास जीतने के लिए। तब जाकर यह किसी पर यकीन करती हैं।

केवल अपने फायदे से मतलब होता है

दुनिया के लोगों से इनका कोई मतलब नहीं होता। खासकर तब जब बात किसी सौदे की आती है। अपना फायदा एवं अपना नुकसान बहुत अच्छे से यह समझती हैं। बाकी कि दुनिया उनके लिए कोई वैल्यू नहीं रखती है। यदि किसी काम से इन को फायदा हो रहा है। बाकी दो लोगों को नुकसान। तो इनको कोई फर्क नहीं पड़ता किसी के नुकसान से। इनका तो फायदा हो रहा है। यह केवल उसी बात से मतलब रखती है‌।

मांगने की गंदी आदत होती है

मकर राशि की महिलाओं को यदि कोई चीज चाहिए होती है। तो वह उस चीज को प्राप्त करके ही मानती है। जब तक इन्हें वह चीज प्राप्त नहीं होती। तब तक यह ना ही खुद शांति से बैठती है और ना ही अपने आसपास के लोगों को चैन से रहने देती है।

इनको लगता है कि पूरी दुनिया में एक यही है, जो सही है और बाकी दुनिया गलत है। यह चीजों को कभी भी औरों के नजरिए से नहीं खुद के नजरिए से देखने की कोशिश करती हैं।

खुद को सही और औरों को गलत मानती है

इन्हें यदि पृथ्वी टेढ़ा नजर आएगा। तो यह उसे टेढ़ा ही कहेंगे कि पृथ्वी टेढ़ा है। भले ही आप इन्हें कहेंगे कि नहीं पृथ्वी गोल है। तो यह नहीं मानेंगी। इनके अनुसार पृथ्वी गोल नी टेढ़ा ही रहेगा।

एक तरह से देखा जाए तो इनके अंदर एक नहीं बहुत सारी गंदी आदतें हैं। जो आदतें इनके लिए सही होती है वह औरों के लिए गलत ही साबित होती है। लेकिन इन सब चीजों से इन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। यदि इनको लाभ होता है कहीं से। तो वह उसी बात से खुश होंगी।

मकर राशि की महिलाएं जैसे भी होती हैं। थोड़ी न्याय वादी होती हैं। इन्हें सच और झूठ का पता तुरंत चल जाता है। यह दुनिया को अपनी नजरों से इसलिए नहीं देखती हैं क्योंकि इनके गृहस्वामी शनिदेव भी इसी तरह के स्वभाव वाले होते हैं। जिस वजह से उनका कुछ प्रभाव इनके अंदर भी रहता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.