तनावरिलेशनशीपशादी विवाहसंबंध

मेरा पति भोलाभाला है। मेरे सामने सास पतिको मारती है , क्या करूं?

मै रीटा, पति से बहुत प्यार करती हु।मेरा पति भोलाभाला है। मेरे सामने सास पतिको मारती है , क्या करूं?

मै पढीलिखी शादीशुदा महिला हु। मेरी शादी को 1 साल हो गया है। मै एक छोटे बच्चे की

माँ हु। मेरे पति खेती करते है। हम साधारण परिवार से है। ससुर गुजर गए है। सासु माँ है।

मेरे पति पर सास का प्रचंड दबाव रहता है। उनको बिना पूछे कोई निर्णय लेना सांस को अपमान

लगता है। मुझपर भी अपना रौब झाड़ती रहती है। मुझसे पैर भी दबवाती है। घर के कम करने में

मुझे कोई तकलीफ नहीं, मगर दिल तब दुखता है, जब वह मेरे पति पर गुस्सा करती है। कभी कभी

उनको मेरे सामने ही मारती है। छोटे बच्चे की तरह पति गुमसुम बैठ जाते है। कुछ नहीं बोलते।

वैसे पति उनकी इज्जत करते है। उनको इसमें कुछ गलत लगता भी नहीं। मगर मुझे बहुत दर्दनाक

महसूस होता है। मेरे पति भोले है। मगर उनके भोलेपन को दुर्बलता समझना सांस की बड़ी भूल है।

मुझे उनका ये बर्ताव बिल्कुल पसंद नहीं। मगर खुलकर कुछ बोल नहीं सकती। ऐसी स्थिति में मुझे

क्या करना चाहिये?

ये भी पढे पड़ोसन ने परेशान किया है । घंटों तक हमारे घर से जाती ही नहीं। क्या करना पड़ेगा ? – (myjivansathi.com)

हमारी सलाह : सास पतिको मारती है

सभी रिश्तो की एक मान मर्यादा जरूर होती है। चाहे वह रिश्ता मां बेटे का ही क्यों ना हो।

लेकिन कई औरतों को अपना प्रभाव ज्यादा जमाने की आदत होती है।इस प्रभाव को जमाने के

चक्कर में कई बार वह रिश्तो की मान मर्यादा तथा इज्जत सम्मान को भी भूल जाती हैं।

इसी तरह के एक रिश्ते की बात हम आज आपको बताने जा रहे हैं।  

कैसे एक मां अपना प्रभाव बनाए रखने के लिए एक बेटे को बचपन से लेकर जवानी तक,तथा

जवानी से लेकर बेटे की शादी के बाद भी नहीं छोड़ती।परंतु उस मां को यह बात समझनी चाहिए कि

अब आपके बेटे की शादी हो चुकी है। तथा आपका अपने बेटे के साथ बुरा बर्ताव उसकी पत्नी को

कैसा लगता होगा।अगर आपकी सास भी आपके सामने ही आपके पति की बेइज्जती करती है।

तो यह सलाह आपके बहुत काम आने वाली है ।

सास पतिको मारती है तो आप कर सकती हैं यह काम

कोई भी औरत अपनी आंखों के सामने अपने पति की बेइज्जती बर्दाश्त नहीं कर सकती।

फिर चाहे बेइज्जती करने वाले  पति के सगे संबंधी या मां बाप ही क्यों ना हो ।

अगर आपकी सास भी आपके पति को आपके सामने ही जलील करती है,

तो आपको सबसे पहले अपने पति से ही बात करनी चाहिए ।आप उन्हें खुल कर बताएं कि ,

आप उनकी बेइज्जती बर्दाश्त नहीं कर सकते।अगर आपके पति इस बात का विरोध करेंगे

तो आपकी सास को भी अपना बर्ताव बदलना पड़ेगा। 

सास को भी समझाएं

वह कहते हैं ना कि कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

इसी तरह आपको भी,एक बार कोशिश जरूर करनी चाहिए।

अपनी सास को समझाने की, हो सकता है कि,आपकी बातों से उनका पत्थर दिल भी पिघल जाए।

उन्हें समझाएं आपके द्वारा उनके पति के साथ किया गया दुर्व्यवहार,सिर्फ आपको ही नहीं,

आपके बच्चों को भी,गलत तरीके से प्रभावित करता है।

उन्हें बताएं कि आप अपने बेटे के साथ ऐसे बर्ताव करके पूरे परिवार को मानसिक परेशानी दे रही है।

बिना हिचकिचाहट लें रिश्तेदारों की सहायता

अपने परिवार के बड़े बुजुर्गों तथा रिश्तेदारों से  इस संबंध में अवश्य बातचीत करें।

क्योंकि हर बॉस का एक बॉस होता है,उसी तरह आपकी सास भी किसी ना किसी रिश्तेदार से अवश्य डरती होगी।

तो उसी का फायदा उठाइए अगर हो सके तो अपनी सास के मायके वालों से बात करें।

कानूनी सहायता

जब सब कोशिशें करने के बावजूद भी आपकी सास का व्यवहार नहीं सुधरता।

तो आपके पास एक ही रास्ता बचता है ।इसलिए अब अपने कानूनी अधिकार का फायदा लें।

क्योंकि घरेलू हिंसा तो घरेलू हिंसा ही होती  है।फिर चाहे वह घर के किसी  पुरुष द्वारा औरत

पर की गई हो या किसी महिला द्वारा किसी पुरुष पर जुलम किया जा रहा हो ।

अपनी जिंदगी जीने और स्वतंत्रता का अधिकार हर व्यक्ति को है ।

आपकी सास या कोई भी  सिर्फ अपना प्रभाव जमाने के लिए किसी की भी जिंदगी बर्बाद नहीं कर सकते।

आपके पति पर आपकी सास द्वारा बचपन से ही इतना प्रभुत्व जमा लिया गया है ।

अब  आपके पति की जुबान से खुद के लिए भी आवाज नहीं निकलती।

तो आप अपने पति की आवाज बनिए और अपने हक के लिए बोलने की हिम्मत होने दे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.