आयुर्वेदआरोग्यज्योतिषधार्मिकभविष्य

कैसे मां के गर्भ के अंदर ही तय हो जाता है व्यक्ति का भाग्य

कैसे मां के गर्भ के अंदर ही तय हो जाता है, व्यक्ति का भाग्य?

क्या आपने कभी सोचा है कि आपका भाग्य कल एवं कैसे तय हुआ होगा। अभी तक नहीं सोचा है तो फिर सोचना शुरू कर दीजिए क्योंकि आज हम ऐसे बात आपको बताने वाले हैं जिसे सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे।

हम सभी अपने मां के गर्भ से जन्म लेते हैं। हम सब की मां हमें अपने गर्व के अंदर 9 महीने तक रखती हैं। फिर वह हमें 9 महीने के बाद जन्म देती हैं। क्या आप जानते हैं कि हम सभी का भाग्य हमारे ही मां के गर्भ में तय हो जाता है। 

हमारे जीवन में क्या-क्या घटनाएं घटित होंगी। हमारा भाग्य अच्छा होगा या बुरा यह सब भी मां के गर्भ में रहते ही तय हो जाता है। कैसे आइए विस्तार से जानेंगे-

हमारी आयु सीमा कैसे तय होती है?

हम सभी जानते हैं कि हम जो जीवन जी रहे हैं। वह एक झूठा जीवन है। हमारे जीवन का सबसे बड़ा सच तो मृत्यु है। जिससे हर किसी को एक ना एक दिन मिलना ही पड़ता है। जब एक शिशु अपने मां के गर्भ में पल रहा होता है। उसी समय यह तय हो जाता है कि वह जन्म लेने के बाद कितने वर्षों तक जीवित रहने वाला है।

क्या जन्म से पहले ही तय होता है अच्छा एवं बुरा समय?

हम सभी के जीवन में कभी अच्छा वक्त आता है। तो कभी बुरा वक्त। हम अच्छे वक्त के लिए खुद को जिम्मेदार मानते हैं और बुरे वक्त के लिए किस्मत को दोष देते हैं। लेकिन ना ही अच्छे वक्त के लिए हम जिम्मेदार होते हैं और ना ही बुरे वक्त के लिए हमारी किस्मत जिम्मेदार होती है। हम जब अपने मां के गर्भ के अंदर रहते हैं। तभी यह तय हो जाता है कि हमारे जीवन में कितना समय सुखमयी होगा और कितना समय हमारे जीवन का दुखों से भरा होगा।

धन लाभ एवं प्रसिद्धयोग कैसे होता है ?

इस दुनिया में शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा। जो जीवन में पैसा एवं प्रसिद्धि दोनों ही हासिल नहीं करना चाहता है। उन कुछ लोगों को छोड़कर इस दुनिया में जितने भी लोग हैं। वे सभी लोग अपने जीवन में पैसा एवं प्रसिद्धि दोनों ही हासिल करना चाहते हैं। कैसे मां के गर्भ के अंदर ही तय हो जाता है व्यक्ति का भाग्य

लेकिन कुछ लोग बहुत मेहनत करके भी कुछ हासिल नहीं कर पाते हैं। वहीं इस दुनिया में कुछ ऐसे लोग भी हैं। जो बिना मेहनत के ही बहुत सारे पैसे एवं सम्मान प्राप्त कर जाते हैं।

क्या आप जानते हैं ऐसे लोगों के साथ ऐसा क्यों होता है? तो जवाब है कि जब बच्चा मां के गर्भ में रहता है तो उस वक्त ही उसका भाग्य तय हो जाता है। उसे जन्म लेने के बाद कितना पैसा कमाने को मिलेगा एवं उसे कितनी प्रसिद्धि हासिल होगी न, यह सब ईश्वर पहले ही तय कर देते हैं।

क्या इंसान की मृत्यु पहले से तय होती है ?

इंसान की मृत्यु कब, कैसे एवं कहां होगी यह कहना किसी के द्वारा भी संभव नहीं है। कारण यह सब कुछ पहले से ही तय हुआ रहता है। जब किसी की मृत्यु पहले से तय होती है। तो वह चाहकर भी अपनी मृत्यु को रोक नहीं सकता।  तमाम कोशिश करके भी व्यक्ति अपनी मृत्यु के समय को बदल नहीं सकता क्योंकि यह पहले से ही तय किया हुआ होता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please remove adblocker