निजी सीक्रेटपुरुष स्वास्थरिलेशनशीपलाईफ स्टाइलशादी विवाह

शादी से पहले और शादी के बाद के जीवन में क्या फर्क होता है?

एक लड़का जीवन शादी से पहले और शादी के बाद का जीवन कैसा होता है?

शादी के बाद हर किसी के जीवन में बदलाव आता है। चाहे वह लड़का हो या लड़की। लेकिन लड़कों की तुलना में लड़कियों की जिंदगी में ज्यादा बदलाव आते हैं। इसके पीछे का कारण यह है कि वह अपना मायका छोड़कर हमेशा के लिए ससुराल में आती है। यही उनके लिए पहला सबसे बड़ा बदलाव होता है। जो शादी के तुरंत बाद होता है।

इसके साथ ही बहुत सी ऐसे बातें हैं। जो शादी के बाद लड़कियों के जीवन में बदल जाता है। आज हम बात करेंगे कि लड़कियों का जीवन शादी से पहले और बाद में कैसा होता है।

समय जल्दी कट जाता है

शादी से पहले एक लड़की के जीवन में कभी भी समय का अभाव नहीं रहता है क्योंकि उनके पास काम करने के लिए कुछ नहीं रहता है।

लेकिन शादी के बाद उनके ऊपर इतनी सारी जिम्मेदारी होती है कि उन जिम्मेदारियों को पूरा करते-करते। उनका वक्त कब खत्म हो जाता है। उनको खुद पता नहीं चलता है।

निर्णय लेने का तरीका बदल जाता है

शादी से पहले लड़कियों के लिए सभी तरह का निर्णय लेना काफी सरल होता है। मगर वहीं दूसरी ओर लड़कियों की जब शादी हो जाती है। तो वह कभी भी कोई फैसला झटपट नहीं लेती है। 

वह बहुत सोच समझकर ही जब कोई फैसला लेना होता है, लेती है। ताकि उनके ससुराल पक्ष को उनसे कोई दिक्कत ना हो।

धैर्य और परिपक्वता उनका नंबर एक लक्षण बन जाता है

शादी से पहले एक लड़की अपने माता-पिता से किसी बात पर जब रूठती है। तो वह सबसे ज्यादा गुस्सा दिखाती हैं। यहां तक कि खाना नहीं खाती हैं। चीजें तोड़ देती हैं। जब तक माता-पिता उन्हें ना मनाएं। तब तक वह गुस्सा शांत नहीं करती हैं।

वहीं जब शादी हो जाती है। तब वह बात-बात पर गुस्सा करना मानो भूल ही जाती हैं। यदि वो चाहे भी अपने ससुराल वालों पर गुस्सा करना। तो वह गुस्सा नहीं कर पाती हैं।

कारण उन्हें वहां पर मनाने वाला कोई नहीं रहता है। इसलिए वह धैर्य से हर काम करती है।

मुश्किल से उन्हें उनके लिए वक्त मिलता है

शादी से पहले का लाइफस्टाइल लड़कियों का अलग होता है। जब मन सो जाओ। जब मन उठो। जहां मन जाओ।

लेकिन शादी के बाद बिल्कुल भी ऐसा नहीं हो पाता। पति,ससुराल, बच्चे आदि को संभालने में एक लड़की अपनी पर्सनल नीड का भी ख्याल नहीं रख पाती है।

पैसा खर्च करते समय वह बहुत सावधान रहती है

अविवाहित लड़कियां शादी से पहले बिना कुछ सोचे ही पैसे खर्च कर देती है। जो मन किया अनावश्यक खरीद लेती है। 

लेकिन यह सब कुछ शादी के बाद नहीं होता। शादी महिलाओं को बचतकर्ता बनाता है। वह भविष्य के बारे में अधिक सोचती हैं।

पैसे बचाकर वह कभी घर के लिए फ्रिज तो कभी अलमारी या फिर कभी सोफा खरीदती है‌। जिससे घर की शान बढ़े।

अपने माता-पिता उसे और भी अधिक महत्व देते हैं

यह हर उस लड़की के लिए सच है जो शादी करती है क्योंकि वह अपने माता-पिता की राजकुमारी होती है। इसलिए जब भी वह अपने माता-पिता के पास जाती है। उन्हें उनका सारा प्यार और स्नेह मिलता है।

उनके माता-पिता उनसे पहले से भी अधिक महत्व देते है‌। शादी के पहले लड़की को घर में रहना पसंद नहीं होता है। लेकिन शादी के बाद हर लड़की को अपने माता-पिता के पास जाना ज्यादा प्रिय होता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.