आयुर्वेदआरोग्यजड़ी बूटीसलाह / मार्गदर्शन

तनावग्रस्त महिला को मायग्रेन की बीमारी

तनावग्रस्त महिला को मायग्रेन मै 36 वर्षीय तलाकशुदा महिला हु। नौकरी करती हु। एक बेटा और एक बेटी है। मेरे पति ने दूसरी शादी की है।

वह हमारे साथ नहीं रहते है। हमारा उनसे कोई संबंध नहीं रहा है। मेरे बच्चों को मैंने बहुत मेहनत से बड़ा किया है

पिछले 3 महीनों से मेरे सर के आधे हिस्से में बहुत तेज दर्द होता है। दर्द तो दोपहर के वक्त होता है। मगर रात को नींद नहीं आती है।

कृपया कोई आयुर्वेदिक इलाज हो तो बताइए। मै आपकी आभारी रहूँगी।

मोहिनीजी शायद आप तनाव में रहती है। सबसे पहले अपने आप को तनाव से मुक्त करो। हो सके तो शादी करो। कई सारे लोग पत्नी तलाश कर रहे है। आपकी जिंदगी में बहार या सकती है। जरा अकेले में इसके बारे में सोचो…

शायद आप मायग्रेन से ग्रस्त है। हम कुछ इलाज आपके लिये बता रहें है।

(मायग्रेन) के लक्षण(Symptoms of Migraine Headache)

आधासीसी (मायग्रेन) का दर्द अधिकाशंतः दिन में होता है| आधासीसी सिर के आधे हिस्से में

होता है| आधासीसी का दर्द काफी तेज होता है| आधासीसी स्त्रिों में अधिक देखने को मिलता है|

(मायग्रेन) आधासीसी के कारन (Causes of Migraine Headache)

अत्यधिक मानसिक श्रम, पेट में वायु बने रहने से, शरीर में धातु दोष होने से होता है|

आधासीसी (मायग्रेन) के घरेलू उपचार (home-remedies-for-migraine-headache)

  • छोटी पिपलि के चूर्ण को शहद में मिलाकर चाटे|
  • एक तोला नौसादर, तीन ग्राम कपूर इन दोनों को पीसले| दोनोंको मिलाकर माथे पर लेप करे|
  • संतरे के छिलके का रस निकालकर उस नथुने में डालें जिस ओर दर्द ना हो रहा हो|
  • मेहंदी की पत्तियों को पीसले| इसका माथे पर लेप करे|
  • आधासीसी के दर्द में दोनों नथुनों में १-१ बूंद शहद डालकर ऊपर की ओर खींच ले|
  • तुलसी की मंजरी के पाउडर को शहद के साथ चाटें|
  • नाक में सरसों का तेल डालकर ऊपर की ओर खीच ले| इससे आधासीसी(मायग्रेंन) में काफी राहत मिलती है|
  • लौंग और तंबाकु के पत्तों को मिलाकर पीस ले| गरम करके सिर पर लेप करे|
  • लौंग, हींग तथा लहसुन का चूर्ण बनाकर तेल में पकाले| इस तेल को नाक में सुबह-शाम डालें|
  • देशी गाय के घी को नाक में डालें|
  • एक चुटकी नौसादर और आधा चम्मच अदरक के रस को शहद में मिलाकर चाटे|
  • बबूल की गोंद, काली मिर्च तथा तुलसी की पत्तियों का लेप करे| इसे माथे पर लगायें|
  • त्रिफला, हल्दी तथा निंबू की छाल इन सबको बराबर मात्रा में लेकर काढ़ा बनाकर पिने से आधासीसी(माइग्रेन) के दर्द में राहत मिलती है|
  • सुखा धनिया, बेलपत्रा, आँवले के चूर्ण को गुलाब जल में मिलाकर लेप बनाकर लगायें|
  • नारियल के पानी की कुछ बूंदे नाक में एक ही तरप डाले| बुँदे उस तरफ डाले जिस तरफ दर्द हो रहा हो|

आपकी क्या राय है ?

आशा है आपको “तनावग्रस्त महिला को मायग्रेन की आधासीसी के लक्षण, कारण और घरेलू इलाज” यह जानकारी पसंद आई होगी|

निवेदन: इस पोस्ट को अपने सोशल मीडिया पर जरुर शेअर करे ताकि दूसरों को भी इसका फायदा हो सके| शायद कोई महंगी फीस की वजह से इलाज ना करा पा रहा हो और इस तकलीफ से जूझ रहा हो| तो यह जानकारी उसे बहुत काम आ जायेगी और वह आपका एहसान जरुर मानेगा|

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.