धार्मिकभविष्यराशीभविष्यवास्तुशास्त्र

अमावस्या पर करें यह 5 काम बन जाओ मालामाल

मौनी अमावस्या में काल सर्प दोष काट देगा यह 5 काम

जिन लोगों की कुंडली में काल सर्प दोष होता है। उनका जीवन संघर्षों से भरा होता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसे लोगों के जीवन में महत्वपूर्ण कार्य समय पर पूरे नहीं होते हैं। 

माघ मास की अमावस्या यानि मौनी अमावस्या की तिथि को इस दोष से मुक्ति पाने के लिए कुछ सरल उपाय करके मोक्ष प्राप्त किया जा सकता है। मंगलवार, 1 फरवरी को मौनी अमावस्या है। आइए जानते हैं कि कौन से उपाय कर व्यक्ति अपने कुंडली के काल सर्प दोष से मुक्ति पा सकता है।

चांदी से बने सांप की पूजा अर्चना करें

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कहा जाता है कि यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में कालसर्प दोष है। तो वह अपने कुंडली से काल सर्प दोष को कम कर सकता है। इसके लिए उसे माघ महीने की अमावस्या के दिन चांदी से बने नाग एवं नागिन की पूजा करनी होगी। 

पूजा के बाद सांपों के रूपों को सफेद फूलों के साथ नदी में प्रवाहित करना होगा। ऐसा करने से नाग दोष से मुक्ति मिल सकती है।

पवित्र नदी में अवश्य स्नान करें

यदि कुंडली में कालसर्प दोष है। तो इसका सीधा तात्पर्य भगवान शिव से है। इसलिए मौनी अमावस्या के दिन उन लोगों को अवश्य ही पवित्र नदी में स्नान करना चाहिए। जिनकी कुंडली में कालसर्प दोष है।

स्नान करने के बाद व्यक्ति को भगवान शिव के ऊपर जल चढ़ाना चाहिए। जल चढ़ाने के बाद साफ वस्त्र पहनकर शिव स्तोत्र का पाठ करना चाहिए। ऐसा करने से भगवान शिव व्यक्ति पर प्रसन्न होकर। उन्हें कालसर्प दोष से मुक्ति देते हैं।

तुलसी मां की परिक्रमा करें

कुंडली में यदि दोष हो तो कुछ हद तक उस दोष को कम करने की ताकत माता तुलसी में भी होती है। मौनी अमावस्या की शाम को तुलसी के पेड़ के पास एक दीपक जरूर जलाएं। दीपक जलाने के बाद तुलसी माता की परिक्रमा 108 बार करें। इससे माता तुलसी आपसे खुश होंगी और खुश होकर आपके जीवन के सभी नकारात्मक दोष को दूर कर देंगी।

देसी घी का प्रदीप लाभ दे सकता है

अपने घर के ईशान कोण में गाय के घी का दीपक जलाएं। दीपक में अक्सर हम रुई की बत्ती का प्रयोग करते हैं। लेकिन काल सर्प दोष से मुक्ति पाने के लिए आप लाल रंग के धागे का प्रयोग करें। साथ ही दिए में केसर के पत्ते डाल दें। इससे और भी लाभ भी होगा।

महामृत्युंजय जाप से मुक्ति मिलेगी

महामृत्युंजय जाप में इतनी शक्ति होती है कि वह जिंदगी से लड़ रहे इंसान के जीवन को वापस लाने में मदद करता है। तो फिर यह जाप आपकी मदद क्यों नहीं कर सकता है। मौनी अमावस्या के दिन महामृत्युंजय मंत्र का 1008 बार जाप आपको जरूर करना चाहिए। जाप करते हुए भगवान शिव का पंचामृत से अभिषेक करें। इससे आपको सुख मिलेगा। साथ ही आर्थिक संकट भी दूर होगा।

निष्कर्ष

अगर हमारे कुंडली में दोष है। तो उसका निवारण भी है बस हमें डरना नहीं है। आपको हमने जैसा उपाय बताया हैं। यदि आप इसी उपाय को अच्छे से फॉलो करेंगी और इसे मौनी अमावस्या के दिन अपनाएंगी। तो आपको बहुत सफलता मिलेगी खासकर उन लोगों को जो लोग कालसर्प दोष से पीड़ित हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.