इतिहासनिजी सीक्रेटमनोरंजनराजकीयशादी विवाहसंबंधस्पेशल

इस देश की लड़की से शादी करने पर सरकार देगी लाखों रुपए और सरकारी नौकरी?

इस देश की लड़की से शादी करने पर सरकार देगी लाखों रुपए और सरकारी नौकरी? हाल ही में एक ऐसी खबर बड़ी तेजी से फैल रही है कि इस पूरे विश्व में एक ऐसा देश है। जहां पर लड़कियों से शादी करने पर उस देश की सरकार लड़के को सरकारी नौकरी देगी और उस देश के सिटीजनशिप का अधिकार भी लड़के को प्राप्त होगा।

जरा सोचिए आखिर वह कौन सा देश हो सकता है। जो अपने देश के लड़कियों की शादी होने पर उसके पति को सरकारी नौकरी ऑफर करेगी। हमारे ब्लॉग पर इसी बात का खुलासा करने वाले हैं। यह खबर शायद आपने भी कहीं ना कहीं सुनी होगी या पढ़ी होगी। मगर यह सच है या झूठ आपको पता चल जाएगा।

कौन सा देश ऐसा सुनहरा अवसर प्रदान कर रहा है लड़कों को?

हम बात कर रहे हैं आइसलैंड की। इसके संबंध में कहा जाता है कि वहां नौकरी की स्थिति बहुत अच्छी है। वहां के लोगों को अच्छी सैलरी मिलती है। वहां पर गरीबी भी कम है।

लेकिन ऐसे देशों में लड़कियों की शादी के विषय में कहा जा रहा है कि जो भी लड़का आइसलैंड की लड़कियों से शादी करेगा।

उसे आइसलैंड में हमेशा के लिए रहने का सिटीजनशिप मिलेगा। साथ ही उन्हें सरकारी नौकरी भी मिलेगी जिसका प्रतिमाह सैलरी होगा ₹300000 रूपए।

यह खबर सुनकर दूरदराज से रिश्ते आने लगे

जिस किसी ने भी इस खबर को पढ़ा। वह आइसलैंड के लड़कियों से रिश्ता जोड़ने के लिए उत्सुक होने लगे।

आइसलैंड की लड़कियां भी दूरदराज के लड़कों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजने लगी। ताकि उनकी शादी हो जाएं। अफसोस कि यह खबर बाद में फेक निकला

सिटीजनशिप और सरकारी नौकरी शादी के नाम पर मिलेगी। यह खबर आइसलैंड के मीडिया वालों को पता चला तो वह बिल्कुल चौक गए।

उन लोगों ने सच का पता लगाना शुरू किया। पता लगाते हुए जब बात आइसलैंड के सरकार तक पहुंची। तो पता चला कि यह खबर पूर्ण रूप से फेक है।

कार्रवाई की प्रक्रिया आरंभ हुई

सिटीजनशिप, सरकारी नौकरी की खबरें जहां से सबसे पहली बार वायरल हुई। उस ब्लॉगर का पता लगाया गया एवं उस पर आइसलैंड की सरकार ने मुकदमा दायर कर दिया।

यहां तक कि उन लड़कियों पर भी कार्रवाई हुई। जो अन्य देशों के लड़के को अपने देश में शादी कर लाना चाहती थी। 

इस वायरल खबर के अनुसार उन्हें सिटीजनशिप एवं सरकारी नौकरी दिलाना चाहती थी ताकि उनकी जिंदगी संवर सके।

लेकिन मीडिया के कारण सच बाहर आ गया और खबर जो वायरल हुई थी। उस खबर को आइसलैंड के सरकार ने फेकबता दिया।

आइसलैंड के सरकार ने अपने देश के लोगों को सचेत भी कर दिया कि इस तरीके की खबर पर कोई भी उत्सुक ना हो।

यह खबर सरकार ने नहीं घोषणा की है। बल्कि किसी ब्लॉगर ने अपने वेबसाइट पर लिखकर इस खबर को फैलाया है। जो एक बहुत बड़ा क्राइम है। जिस पर हम वर्तमान में कार्रवाई कर रहे हैं।

निष्कर्ष : इन अफवाओ पर यकीन ना करें।

दोस्तों इस लेख के माध्यम से हम आपको यही कहना चाहते हैं कि यदि आपको भी कभी ऐसा खबर मिले। जिसे सुनकर आम लोग लालच में पड़ सकते हैं। तो ऐसे खबर को वायरल करने से पहले या खुद उस खबर के झांसे में पड़ने से पहले पूर्ण रूप से सच का पता लगाएं। ताकि भविष्य में आपको किसी भी तरीके की कोई दिक्कत आपको ना हो।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.