आयुर्वेदआरोग्यजड़ी बूटीपुरुष स्वास्थमहिला स्वास्थरोग एवं निदान

शादीशुदा महिला हु। मुझे कब्ज की समस्या है। मुझे क्या करना चाहिये ?

मै एक शादीशुदा महिला हु। मेरी शादी को 12 साल हो गए है। कब्ज की समस्या है । बच्चा नहीं है।

भविष्य में बच्चा होने की संभावना बहुत कम लग रही है। क्यों की मै बीमार रहती हु।

मेरे पति निजी क्लासेस मे टीचर है। मै भी वही पर रिसेप्शन में नौकरी करती हु।

सांस ससुर गाव में और हम शहर में रहते है। मेरी समस्या ये है, की मुझे कोई भी भोजन पचता नहीं।

कुछ भी खाती हु तो उलटी शुरू हो जाती है। कब्ज और अजीर्ण से परेशान हु। सब डॉक्टर की

गोलिया खाकर मै अशक्त हो गई हु। कोई घरेलू ईलाज होगा तो बताइए। आपकी बड़ी मेहरबानी होगी।

आपके सलाह की इनको जरूरत है माँ बनना चाहती हु। गलत रास्ते भी अपना चुकी हु – My Jivansathi

हम आपकी समस्या के लिये उपाय बता रहे है। मगर किसी भी उपचार से पहले जानकार की

सलाह लीजिए। जो उपचार आपको सहन होगा , वह कीजिए।

भोजन को लेने के बाद उसका पाचन संस्थान द्वारा पाचन होता है। अगर पाचन प्रक्रिया में कोई भी

रुकावट हो जाये तो भोजन सही ढंग से नहीं पचता और कब्ज की समस्या होती है

कब्ज की समस्या है ? वायुविकार, अजीर्ण होने के कारन

अत्याधिक तनाव, देर रात तक जागना, कम भोजन करना, ज्यादा तले भुने, चिकने खाद्यपदार्थों का सेवन,

शोक, दुख, चिन्ता आदी कब्ज होने के मुख्य कारन है|

कब्ज (वायुविकार, अजीर्ण) के लिए आयुर्वेदिक घरेलु उपचार

अदरक कब्ज ,वायुविकार, अजीर्ण में कैसे उपयोग करें ?

अदरक की में चटनी नमक मिलाकर चाट ले। इससे गैस पास होने लगती है। अदरक के रस में नींबू और पुदीने के रस को मिलाकर पीने से कब्ज (वायुविकार, अजीर्ण) में आराम पहुँचता है। इसमें चाहे तो १-२ चम्मच शहद भी मिलाकर खा सकते हैं।

  • सौंठ, कालीमिर्च कब्ज ,वायुविकार, अजीर्ण में कैसे उपयोग करें ?
  • सौंठ, कालीमिर्च और पीपल को बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण बनालेइस चूर्ण का सेवन सुबह-शाम १-१ करे। कब्ज से छुटकारा मिल जायेगा

  • बेल का शरबत कब्ज ,वायुविकार, अजीर्ण में कैसे उपयोग करें ?
  • पके हुये बेल का शरबत पी ले| या फिर बेल के गूदे में सौंफ का पाऊडर मिलाकर भी पी सकते है| इससे कब्ज दूर हो जाएगी| आप चाहे तो पके हुए बेल को भी सीधा खा सकते है|

  • सूखे धनिए का काढ़ा कब्ज ,वायुविकार, अजीर्ण में कैसे उपयोग करें ?
  • अदरक और सूखे धनिए का काढ़ा बनाकर पी ले।

    पुदीने का रस कब्ज ,वायुविकार, अजीर्ण में कैसे उपयोग करें ?

    पुदीने के रस का थंडी चीनी या गुड़ मिलाकर सेवन कर लें। ऐसा करने से भी आपको कब्ज (वायुविकार, अजीर्ण)
    से छुटकारा मील जायेगा। सौंठ, बड़ी इलायची (बडी) और दालचीनी को बराबर मात्रा में ले। कूटकर इसका पावडर बना लें।
    इसे सुबह-शाम सादे पानी के साथ १ चम्मच की मात्रा में ले

    गरम पाणी में नींबू का कब्ज ,वायुविकार, अजीर्ण में कैसे उपयोग करें ?

    गरम पानी में १ नीबू मिलाकर पीले| इससे भी कब्ज दूर हो जायेगी|

    ताम्बे के बर्तन में पानी कब्ज ,वायुविकार, अजीर्ण में कैसे उपयोग करें ?

    रात को सोने से पहले तांबे के पात्र में पानी भरकर रख ले। सुबह उठातेही शौच जाने से पहले इस पानी का सेवन करने से कब्ज दूर हो जाएगी|

    वायुविकार, अजीर्ण के लिये रामबाण इलाज

    1. रात को गरम दूध के साथ १ चम्मच त्रिफला भी कब्ज दूर करने के लिए ले सकते है|
    2. आधा चम्मच पीपल के चूर्ण को गुड के साथ लेने से भी कब्ज दूर हो जायेगी|
    3. सौंठ, हरड़ और अजवायन को समान मात्रा में लेकर पानी में उबाल ले। इस पानी का नमक मिलाकर सेवन करने से कब्ज दूर होता है|
    4. खट्टी छाछ पीने से भी कब्ज की शिकायत दूर होती है|
    5. भुनी हींग, भुना जीरा, सौंठ और सैधा नमक समान मात्रा में लेकर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण को गुनगुने पानी के साथ लेने से कब्ज दूर होगी|
    6. कच्ची गाजर को चबा-चबाकर खाने से भी कब्ज दूर हो जाता है|
    7. कब्ज में आँवले का मुरब्बा या आँवले का पावडर भी ले सकते हैं|
    8. गिलोय का चूर्ण गुड के साथ लेने से भी कब्ज दूर होता है|
    9. भोजन के साथ सुबह शाम पपीता खाने से कब्ज दूर होता है|
    10. रात को सोते वक्त दूध में १ चम्मच एरंड का तेल मिलाकर पीने ले|
    11. हररोज २५ मिली देशी गाय का गोमूत्र पीने से कब्ज दूर होता है|
    12. कमजोरी की वजह से अपच या पेटदर्द हो तो कच्चा लहसुन चबाकर खाये|
    13. बारीक प्याज काटकर दही में मिलाकर खाये| कच्चे प्याज का रस पेट दर्द, बदहजमी, वायु विकार और अफरा में फायदेमंद होता है।
    14. राई के नियमित सेवन से पुराने से पुराना अपच भी ख़त्म हो जाता है|
    15. अदरक को किसी भी रूप आप इस्तेमाल कर सकते हैऐसा करते रहने से भोजन सरलता से पचता है और कब्ज की शिकायत नहीं होती|

    आशा है आपको “कब्ज को जड़ से ख़त्म करने के आयुर्वेदिक उपचार यह जानकारी पसंद आई होगी|

    निवेदन: इस पोस्ट को अपने सोशल मीडिया पर जरुर शेअर करे ताकि दूसरों को भी इसका फायदा हो सके| शायद कोई महंगी फीस की वजह से इलाज ना करा पा रहा हो और इस तकलीफ से जूझ रहा हो| तो यह जानकारी उसे बहुत काम आ जायेगी और वह आपका एहसान जरुर मानेगा|

    Related Articles

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *