इतिहासटेक्नोलॉजीमनोरंजनराजकीयलाईफ स्टाइलस्पेशल

इन 5 कामों में हो जाए बेशरम वरना पछताना पड़ेगा

हम आपको आज जो जानकारी दे रहे है, वह महत्वपूर्ण है। इन 5 कामों में हो जाए बेशरम वरना पछताना पड़ेगा

यदि हम आपसे एक सवाल पूछे कि आप जिंदगी में क्या बनना चाहते कंगाल या धनवान बनाना चाहते हैं।

आपका जवाब होगा पैसा सहेज कर रखना चाहते हैं। बिल्कुल सही जिंदगी में हर व्यक्ति मेहनत करता है

पैसा कमाने के लिए। वह पैसे इसलिए कमाता है ताकि वह पैसे को सहेज कर रख सकें।

ताकि मुसीबत के वक्त में उसका कमाया पैसा ही उसके काम आ सकें। शर्म के कारण कुछ काम हम टालते है।

यदि आप जीवन में पैसा कमाना चाहते हैं, ज्ञान हासिल करना चाहते है, पेट भरकर खाना चाहते है तो थोड़ा बेशर्म बनिए।

बेशर्मी से तात्पर्य उन नीतियों से है। जिन्हें अपनाकर आप खुद अपना ही लाभ कर पाएंगे। आइए उन 5 बातों के बारे में जानते हैं:-

उधार देकर पैसा वापस मांगना सीखिए

कई बार ऐसा देखा गया है कि लोग अपने किसी जान पहचान वाले को पैसा उधारी में दे देते हैं।

फिर वह अपना ही पैसा मांगने में शर्म महसूस करते हैं। जबकि ऐसा नहीं करना चाहिए।

यदि आप अपने ही मेहनत का पैसा लोगों को उधार देंगे और वह वापस नहीं मांगेंगे।

तो लोग आपके इसी अच्छाई का फायदा उठाएंगे और 1 दिन ऐसा होगा जब आपको पैसे की जरूरत पड़ेगी।

फिर आपको वही व्यक्ति पैसे नहीं देंगे। जो आज आपका पैसा लेकर बैठे हुए हैं।

इसलिए वक्त रहते हैं अपना पैसा वापस लें। इसमें कोई शर्म की बात नहीं है।

भूख लगे तो खाना मांग कर खाना सीखिए

जब हम किसी अपने के घर में आमंत्रित किए जाते हैं। तब हम खाना खाते वक्त शर्माते हैं।

भूख जोर से लगती है। पर दोबारा मांगने में शर्माते हैं। शर्माना क्या है? बल्कि अपनों के घर तो मांग कर खाने का पूरा अधिकार है।

यदि आप मांगेंगे नहीं तो आप अपने साथ ही नाइंसाफी करेंगे। इसलिए मांगने की बेशर्मी कीजिए।

जब ज्ञान की बातें समझ ना आएं तो प्रश्न कर समझना सीखिए

अक्सर हाई लेवल की बातें एक बार सुनने के बाद समझ नहीं आता। जबकी वह बातें हमारे जीवन के लिए महत्वपूर्ण होती है।

यदि आप ऐसी परिस्थिति में पड़ जाते हैं। तो आप बात का अर्थ जानने की कोशिश अवश्य करें।

कोई बात नहीं लाखों लोग अगर आप पर हंसेंगे। याद रखें। वह बात आपके लिए जरूरी है।

इसलिए चाहे जो हो जाए जब बात ज्ञान प्राप्त करने की हो। सभी मार्ग को पार कर जाइए और प्रश्न करना सीखिए।

अपना हक मांगना सीखिए

जो चीज आपकी है। अगर आपसे वह अधिकार कोई छिने।

तो उन अधिकारों को मांगना सीखिए। यदि आप सही वक्त पर नहीं मांगेंगे तो बाद में केवल पछतावा होगा।

इसलिए सही समय पर उचित वक्ता बनिए। इन 5 कामों में हो जाए बेशरम वरना पछताना पड़ेगा

गलत का विरोध करना सीखिए

ऐसा अक्सर देखा गया है कि व्यक्ति के आसपास गलत होता है। वह देखते हैं, कुछ बोलना चाहते हैं।

पर बगल वाला व्यक्ति चुप हैं, तो वह भी चुप हो जाते हैं। इस तरह से गलत काम के साक्षी बनकर आप भी

गलत काम के बराबरी के भागीदार बन जाते हैं। इसलिए खुद में साहस लाइए और गलत का विरोध करना सीखिए।

क्या पता आपकी एक आवाज एक जुल्म को रोक दें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.