तनावनिजी सीक्रेटरिलेशनशीपशादी विवाहस्पेशल

पति पर विश्वास नहीं होता क्योंकी हर बार मुझसे झुट बोलते है।

मेरे शादी को 7 साल हो चुके है। सांस ससुर से अलग हम अपने 2 बच्चों के साथ रहते है।

पति हर बार झूठ बोलते हैं। छोटी सी हो या बड़ी बात भी हमेशा झूठ बोलते है। हरदिन में उनका झुट

पकड़ती हु। झुट बोलनेवालों पर मुझे बहुत ग़ुस्सा आता है। मुझे यह भी समझ नहीं आता कि

वह इस बार क्या सचमुच सच बोल रहे हैं, या हमेशा की तरह झुट। मैं उनको ईमानदार कैसे कहूँ..?

बच्चों के सर पर हाथ रखकर कसम खाने के बाद भी कई बार मैंने उनका झुट साबित किया है।

कभी भी मुझे पति पर विश्वास नहीं होता क्योंकी हर बार मुझसे झुट बोलते है।

ये भी पढे : पड़ोसी मेरी चुगली करते है। और शादी तोड़ने की कोशिश करते है। – My Jivansathi

हमारी सलाह : पति मुझसे झुट बोलते है।

अपना प्रश्न लिखने के लिए धन्यवाद। मैं समझती हूं कि आपने कितनी पीड़ा सही । मुझे पता है कि

आप कैसा महसूस करती होगी और आपकी स्थिति कैसी होगी ।

आप बड़े धैर्य के साथ परिस्थितियों का सामना कर रही हैं। वाकई यह सचमुच काबिले तारीफ बात है। 

लेकिन अब अगर आप अपने पति के व्यवहार पर नजर डालें तो.. किसी के झूठ बोलने के पीछे कुछ

कारण होंगे। आइए पहले उन कारणों पर नजर डालते हैं .. इससे आपको कुछ सहायता मिलेगी।

आमतौर पर आदमी झूठ क्यों बोलते हैं..?

  1. झूठ अक्सर तब कहा जाता है जब दूसरे व्यक्ति का डर हो।
  2. मुसीबत से बचने के लिए भी लोग झूठ बोलते हैं।
  3. दूसरों की नाराजी से बचने के लिए भी झूठ बोलते हैं।

आपकी बातों से यह प्रतीत होता है, की आपके पति पर आपका ज्यादा ही प्रभाव है। एक झुट छुपाने

के लिये दूसरे झुट वो बोलते होंगे। इस तरह झूठ बोलकर दोनों के बीच के विवाद को शांत किया

जा सकता है। ऐसा करने से किसी भी तरह के विवाद से बचा जा सकेगा। ऐसा उनका मानना होगा।

अगर आपके पति विवाद से बचने के लिये झुट बोल रहे है तो ये उनकी गलती है क्या ?

लेकिन इससे दोनों के रिश्ते में दरार आ सकती है। ज्यादातर लोगों को इसका एहसास नहीं होता है। 

एक बार आप अपने पति के पास जाकर उनसे ईमानदारी से शांति से बात करें। इससे उसे समझ में

आएगा कि वह क्या गलती कर रहा है। और आप उनपर ज्यादा नियंत्रण रखने की कोशिश छोड़ दें।

कई बार लोग किसी बड़े संकट में फस जाते है, उससे बाहर निकालने का रास्ता नहीं मिलता। ऐसे में

अगर उनके पास एक अच्छा , समझदार जीवनसाथी, होगा तो वे आसानी से इससे बाहर निकल सकते हैं। 

उनको भरोसा दिलाए, की किसी भी विपरीत परिस्थिति में आप उनके साथ हो।

अपनी समस्या हमारे साथ साझा करने के लिए एक बार फिर धन्यवाद।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.