इतिहासतनावपुरुष स्वास्थमनोरंजनमहिला स्वास्थरिलेशनशीपशादी विवाहसंबंध

शादी के बाद किसी लड़की के लिए प्रेमी से ज्यादा पति महत्वपूर्ण क्यों हो जाता है?

मै जानना चाहती हु, की शादी के बाद किसी लड़की के लिए प्रेमी से ज्यादा पति महत्वपूर्ण क्यों हो जाता है?

क्यों की शादी से पहले मै एक लड़के से बहुत प्यार करती थी। मगर हमारे दुर्भाग्य से शादी नहीं हो सकी। मगर

मुझे तो लगता था, की आजन्म उस श्रीकृष्ण की राधा बनकर उसकी यादों में जिंदगी गुजरूँगी। आदर्श प्रेमिका

की भूमिका निभाऊँगी। मगर शादी के 4 साल में ही, मै यह महसूस कर रही हु की मेरे लिए प्रेमी से ज्यादा पति

महत्वपूर्ण है। प्रेमी जिए या मरे मुझे अब कोई फरक नहीं पड़ेगा। मगर मेरे पति के जीने मरने का मुझपर बहुत

ज्यादा असर होगा। ऐसा कैसे हो गया, मै खुद सोचकर हैरान हो जाती हु। क्या ये सब लड़कियों के साथ संभव

है ?

हमारी सलाह : शादी के बाद किसी लड़की के लिए प्रेमी से ज्यादा पति महत्वपूर्ण क्यों हो जाता है?

शादी एक ऐसा पवित्र बंधन है, जो दो जिस्म को एक जान बना देता है। कोई भी लड़की शादी के बाद,

प्रेमी की बजाय पति को देती है महत्व, जाने क्यों।

 रिश्ता चाहे प्यार का हो, या शादी का। लगाव और मान मर्यादा, हर रिश्ते में होती है। जिससे प्यार हो,

उसी से आपकी शादी भी हो जाए। यह हर किसी की, किस्मत में नहीं होता है। किसी न किसी वजह से,

अक्सर अपने पूर्व प्रेमी से बिछड़ना ही पड़ता है। हालांकि पहले प्यार को भूल पाना, बहुत मुश्किल होता है।

खास तौर पर लड़कियां, अपने पहले प्यार को नहीं भुला पाती है। लेकिन क्या शादी के बाद भी, प्रेमी को

याद रखना सही है। जी नहीं, ऐसा करना बिल्कुल भी उचित नहीं है। 

शादी का रिश्ता सात फेरों, और वचनों से आरंभ होता है। अग्नि के सामने एक दूसरे का, जिंदगी भर साथ देने

की कसमें खाई जाती हैं। शादी के बाद आपको, रिश्ते की मान मर्यादा बनानी चाहिए। ज्यादातर लड़कियां,

शादी के बाद पति को अपनी जिंदगी का अहम हिस्सा बना लेती हैं। ऐसा जरूरी भी है। क्योंकि अपनी बीती

जिंदगी का बोझ, आप सारी उम्र साथ लेकर नहीं रह सकते। तो दोस्तों आइए जानते हैं। क्यों एक लड़की के

लिए शादी के बाद, प्रेमी से ज्यादा पति खास हो जाता है।

 परिवार का मान सम्मान 


हर लड़की के, अपने कुछ सपने होते हैं। खास तौर पर जीवनसाथी के लिए तो, वह बचपन से ही सपने संजोने लगती है।

परंतु कई बार पारिवारिक जिम्मेदारी के चलते, उन्हें अपने सपनों का त्याग करना पड़ता है।  फिर चाहे वह सपना,

उसके प्रेमी के साथ शादी का ही क्यों ना हो। अगर परिवार के मान सम्मान के लिए, परिवार की मर्जी से शादी

कर सकती हैं। उसी मान मर्यादा की खातिर, वह अपने पति को भी जिंदगी का अहम हिस्सा बना लेती है।

 भविष्य की सोच


एक समझदार लड़की, अपने भविष्य के बारे में सोच कर ही चलती है। हालांकि उसने अपने प्रेमी के साथ भी,

भविष्य देखने की इच्छा रखी होती है। पर शादी के बाद, वह अपने जीवन की सच्चाई को मान लेती है।

यह एक समझदार लड़की, होने की निशानी भी है। क्योंकि बीती बातों को याद करने का, अब कोई फायदा

नहीं होने वाला है। आपकी आगे की सारी जिंदगी, आपके पति के साथ ही संबंधित है। इसी समझदारी का

परिचय देते हुए लड़कियां, अपने शादी के बंधन को  निभाती हैं।

पति से लगाव 


 शादी के बाद पति के साथ किए गए, संकल्प को झुठला नहीं सकते। अगर शादी के बाद भी,

प्रेमी के साथ संबंध रखती हैं। तो यह आपके, पति के साथ विश्वासघात होगा। पति के साथ ज्यादा

वक्त बिताने के बाद, उसे काफी लगाव हो जाता है। और प्रेमी के साथ बिताए हुए पलों को, एक

लड़की भूलना शुरू कर देती है। इसी बढ़ते हुए लगाव के मद्देनजर, पति की अहमियत बढ़ जाती है। 

नई जिंदगी


 जब एक लड़की जिंदगी में, आगे बढ़ जाती है। तो वह पुराने सारे ख्यालात, मन से दूर कर देती है।

क्योंकि पति के साथ अंडरस्टैंडिंग ही, उसे हर पल खुशी दे सकती है। अगर शादी के बाद भी, प्रेमी के

साथ कोई संपर्क रखेगी। तो निश्चित रूप से, उसकी शादीशुदा जिंदगी बर्बाद होगी। और ऐसा कोई भी,

लड़की नहीं चाहती। इसलिए पति के साथ, सामंजस्य बैठाना ही उचित है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.