रिलेशनशीपशादी विवाहसंबंधसलाह / मार्गदर्शन

पति शक करता है और मारपीट भी करता है।

मै एक शादीशुदा महिला हु। पति शक करता है । गाली गलोच और मारपीट भी करता है।

मै एक बेटे की माँ हु। मै 12 वी तक पढ़ी हुई साधारण परिवार की लड़की हु।

मगर अचानक मेरे पापा अचानक गुजर जाने के बाद सबकुछ बदल स गया और

पति शक करता है

माँ और रिश्तेदारों ने मेरी शादी आनन फानन में करवा दी। पति बिल्कुल ही अनपढ़ था।

वह भी मै बर्दाश्त कर लेती मगर वह मेरी भावनाओं को नहीं समझता। मै कुछ भी करू तो

उसको बुरा ही लगता है।

न कभी मेरे बनाये हुए पक्वान्न की तारीफ करता है। न कभी खुले दिल से बात करता है।

मै सिर्फ उसके लिये बच्चा पैदा करने वाली मशीन की तरह थी। और आज भी हु।

मेरा दुख दर्द उसके लिये कोई मायने नहीं रखता। आवारगी करना उनका शौक है।

ससुर सरपंच होने के कारण गाव में उनकी और मेरी भी इज्जत है। मेरा देवर केरल में एक

बिजनेस करता है।

इसके कारण 5-10 लाख आमदनी हर महिना होती है। मगर इस घर में सब मुझे ताने मारते है।

कभी कभी पति शराब पीकर आते और मुझे बिना किसी बात के पीटते है। इस कारण मै बहुत परेशान हु।

उनकी शराब की आदत दिन ब दिन बढ़ते ही जा रही थी। मुझे लगा की बच्चा होने के बाद ये

कुछ सुधर जाएंगे मगर उनमें कुछ बदलाव नहीं आया। इनके दोस्त भी ऐयाशी किस्म के है।

भाई से मदद की उम्मीद नहीं

मेरा दर्द मै किसको सुनाती ? माँ बूढ़ी हो रही है। उसको अगर पता चलता की मेरी हालत इतनी

बुरी है। तो वह सहन नहीं कर पाती। इसलिए अपने दर्द को कभी माँ के सामने जाहीर नहीं किया।

भाई है मगर उसको मुझसे कुछ लगाव नहीं है। उसने सारी जमीन जायदाद से मेरा नाम हटाया है।

और खुद का नाम लगाया है। मुझे जायदाद का लालच था भी नहीं। मैंने सारे कागजात पर

हस्ताक्षर ये सोचकर किया था की कम से कम माँ का तो खयाल रखेगा। इसी बात की

मुझे खुशी है, की माँ को वह संभाल रहा है। तो मायके से मुझे कोई उम्मीद है ही नहीं।

पति शक करता है मुझे कृपया सुझाव दीजिए की मुझे इस हाल में क्या करना चाहिये?

पति को सुधारने का खूब प्रयास किया अब और नहीं सह सकती।

अगर मै दूसरी शादी करती हु तो इससे भी बदतर हालात नहीं होंगे इसकी क्या ग्यारंटी है? मेरे लिये कौन कौन से विकल्प है?

हमारी सलाह

आप वाकई बुरी हालात में है। मगर आपने बताया नहीं की पति को आप पर शक क्यों है?

अगर आप सचमुच पति को सुधारणा चाहती हो तो शक की वजह खत्म करें।

जिस इंसान के बारे में उनको शक है उनसे ना मिले ना बातचीत करें

जो आदत उनको पसंद नहीं वह आदत छोड़ दें। और पति का सम्मान करें।

अगर आपको लगता है की वह आपको गृहलक्ष्मी माने तो आपको भी पति में परमेश्वर तलाश करना होगा।

एक हाथ से ताली नहीं बजती है। जरूर कुछ न कुछ आप छिपा रही हो।

जो कुछ छिपा रही हो उसको करना आप बंद करेगी तो आपको उस घर में इज्जत अवश्य मिलेगी।

अब बात करे दूसरी शादी की, तो वह भी विकल्प आपके सामने मौजूद है। मगर वह सबसे आखिर में रखे।

सब प्रयास करने के बाद भी अगर आपको वहाँ असुरक्षित लगा तो दूसरी शादी के बारे में सोचे।

मगर इस बात की कोई ग्यारंटी नहीं है की दूसरे लड़के से शादी करने के बाद आपकी

समस्या समाप्त हो जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.