ज्योतिषटाइम पासधार्मिकभविष्यवास्तुशास्त्रस्पेशल

आमदनी बढ़ाने के बेहतरीन उपाय

एक खुशहाल परिवार के लिए वास्तु सलाह कई मामलों में बहुत कारगर साबित हुई है। घर का निर्माण कैसे करना चाहिए। घर का स्थान किस दिशा में होना चाहिए और उसका आकार भी वास्तु के अनुसार महत्वपूर्ण हैं। आइए जानते हैं कि वास्तु शास्त्र के अनुसार घर का कौन सा कोण अच्छा है और आर्थिक विकास के लिए कौन सा कोण फायदेमंद है।

आमदनी बढ़ेगी, बचत भी बढ़ेगी, घर के इस हिस्से को खाली छोड़ दें

वास्तु के अनुसार कहा जाता है कि पूर्व दिशा को कभी भी बंद नहीं रखना चाहिए। जितना हो सके पूर्व दिशा का कंस्ट्रक्शन कम होना चाहिए। यहां तक कि यदि पूर्व की ओर का क्षेत्र पश्चिम दिशा की तुलना में कम या ज्यादा ऊंचा है, तो आपके शत्रुओं की ताकत बढ़ेगी और आप खुद को कमजोर महसूस करेंगे।

पूर्व दिशा को खुला रखना चाहिए

पूर्व दिशा वाला घर सफलता दिलाने में यदि घर के पूर्व दिशा में अधिक जगह होगी तो धन संपदा में वृद्धि होगी। यहां तक की वंश में वृद्धि भी होती है। ऐसे प्लाट पर बने घर का पूर्वी भाग, वहां का कमरा और बरामदा जब नीचा कर दिया जाता है। तो उस घर में रहने वाले लोगों को हर प्रकार से सफलता ही मिलती है।

पूर्व की ओर मुख्य द्वार होना शुभ होता है

यदि घर का मुख्य द्वार पूर्व दिशा की ओर बना हो। यदि घर के अन्य द्वार केवल पूर्व दिशा की ओर हों तो परिवार को अच्छे परिणाम मिलते हैं। एक उत्तर और पूर्व दिशा का हिस्सा खाली रखना अच्छा होता है। साथ ही यह आपके बच्चे की प्रगति भी लाएगा।

दीवार का नीचा होना अच्छा होता है

घर की पूर्व दिशा में दीवार जितनी नीची होगी, मकान मालिक को उतनी ही अधिक प्रसिद्धि और मान-सम्मान मिलेगा। ऐसे घरों में रहने वाले लोगों को लंबी उम्र और अच्छी सेहत दोनों मिलती है।

पश्चिम दिशा पूर्व दिशा से ऊंची नहीं होनी चाहिए

घर के पूर्व दिशा में किसी भी प्रकार के निर्माण कार्य में बाधा न डालें। पूर्व की तरफ को जितना हो सके खुला रखें। यदि इस तरफ का क्षेत्र पश्चिम से कम या ऊंचा है। तो आपको लगातार असफलताओं का सामना करना पड़ सकता हैं।

कौन सी चीज रखनी चाहिए पूर्व दिशा में

वास्तु शास्त्र के अनुसार हरे रंग से संबंधित चीजों को पूर्व या दक्षिण-पूर्व दिशा में रखना अच्छा होता है। जिसे आग्नेय कोण भी कहा जाता है। साथ ही घर में हरी घास का छोटा बगीचा भी इनमें से किसी एक दिशा में बनाना चाहिए।

घर का रंग कैसा होना चाहिए

पूर्व की ओर मुख वाले उत्तर-पूर्व के घरों में सूर्य की पहली किरणें पड़ती हैं। जिसका अर्थ है कि आपके घर पर बहुत अधिक सकारात्मक ऊर्जा है। इसलिए आपके घर का रंग हरा या भूरा होना चाहिए। आमदनी बढ़ाने के बेहतरीन उपाय

भारत में, वास्तु शास्त्र का लोगों, उनके व्यवहार और उनके जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में उनकी सफलता पर एक मजबूत प्रभाव माना जाता है। इसलिए वास्तु के अनुसार अपने घर की मॉडलिंग को शुभ माना जाता है।

आमदनी बढ़ाने के बेहतरीन उपाय

 यदि आप भी अपना घर बना रहे तो अपने घर का पूर्व कोण हमेशा खुला रखें और ध्यान रखें कि आपके घर पश्चिमी दिशा पूर्व कोण से बड़ा नहीं होना चाहिए। अन्यथा आप को ही नुकसान होगा। आप असफलता के शिकार बनेंगे। इसलिए अपने घर के पूर्व और पश्चिम दिशा को एक बराबर रखने की कोशिश कीजिए और जितना हो सके पूर्व दिशा को खाली रखें इससे आपको सफलता ही मिलेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.