रिलेशनशीपलाईफ स्टाइलशादी विवाहसंबंधसलाह / मार्गदर्शन

पति का एक दोस्त मुझसे पुनर्विवाह करना चाहता है | क्या करूँ?

मै विवाहित महिला हु। पति का एक दोस्त मुझसे पुनर्विवाह करना चाहता है | क्या करूँ?

मेरी शादी को 4 साल हो गए है। एक बेटी है। पति दिनभर ऑफिस जाते है। सांस और ननद के साथ

दिनभर रहती हु। ये लोग बहुत शक करनेवाले लोग है। उनको लगता है, की मै मेरे माँ बाप को पैसे भेजती हु।

मगर ऐसी बात नहीं है। भले ही मेरे माँ बाप गरीब है। मगर मुझसे पैसे लेकर जिंदगी जीना उनको पसंद

ही नहीं आ सकता। मगर इन लोगों को कौन समझाएगा। इसके अलावा उनको मेरे चरित्र पर भी शक है।

मेरे मोबाइल को पासवर्ड लगाना इनको पसंद नहीं। इसी शक की वजह से एक बार बहुत बड़ा

विवाद हुआ। मै रो रही थी। मेरे पति के दोस्त ने देखा। उनको सबकुछ समझ आया। वो 4 सालों से मेरी

हालत देख ही रहे है। ऊस दिन उन्होंने शादी प्रस्ताव दिया। वो बोले की मुझे बहुत खुश रखेंगे। ऐसे

परेशान नहीं होने देंगे। मगर ये बात मुझे ठीक नहीं लग रही है। पर कभी कभी ये सोचती हु की

ऐसा कबतक चलेगा? क्यों न मै अपनी जिंदगी के बारे में सोचू ? क्या करू ? बहुत परेशान हूं।

सही सुझाव दीजिए

हमारी सलाह : पति का एक दोस्त मुझसे पुनर्विवाह करना चाहता है | क्या करूँ?

शादीशुदा होने के बाद भी यदि आप अपने ही पति के दोस्त से इश्क लड़ाएंगी, तो आपके पति

एवं सास-ससुर शक तो करेंगे ही ना! सुधर जाइए, वरना पछताने के अलावा आपको और

कुछ हासिल नहीं होगा।

एक पति के रहते आप किसी और से रिश्ता नहीं रख सकती

हमारे भारत देश के कानून में एवं हमारे देश के संस्कृति में यह बिल्कुल भी नियम नहीं है।

कोई भी नारी एक पति के होते हुए किसी और से प्यार जैसा संबंध बना नहीं सकती है।

ऐसा यदि आप कर रही हैं तो यह केवल ना आपके घर वालों के लिए। बल्कि हर नारी जाति के

लिए शर्म की बात है। यदि आप ऐसा कर रही है। इसके पीछे कोई कारण होगा। यदि कोई

विशेष कारण है। तो आप अपने पति के दोस्त के साथ शादी करने या प्यार करने से पहले अपने

पति को कानूनी तौर से तलाक दीजिए। उसके बाद किसी और से संबंध बनाए। ताकि कोई

आपके चरित्र पर उंगली उठा ना सके।

आपकी परेशानी की वजह आप खुद है

आपके सांस-ससुर एवं आपके पति सब अपनी जगह पर बिल्कुल ठीक है। शादी के बाद एक पत्नी

के लिए उसका पति ही सब कुछ होता है। यदि आप अपने पति को ही धोखा देंगी और उसके

दोस्त के साथ गलत रिश्ता रखेंगी। तो आपके सांस- ससुर आपसे गुस्सा होंगे। यह जाहिर सी बात है।

इसके लिए परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि आप ही अपनी परेशानियों की जिम्मेदार है।

यदि आप अपने पति के साथ ही रहना चाहती हैं तो इसके लिए खुद को सुधारिए

यदि आप अपने पति के साथ ही अपना पूरा जीवन बिताना चाहती है। तो इसके लिए अपने आप

को बदलिए। आपके गलत राह पर चलने के कारण, आपके ससुराल वाले आपसे बहुत ज्यादा ही

नाराज है। यहां तक की आप के प्रति जो उनके मन में विश्वास था। वह भी अब टूट चुका है।

संदेहास्पद वर्तन मत कीजिए। कोई शक नहीं करेगा

इसलिए रिश्ते को फिर से जोड़ने के लिए आपको उनके दिल में विश्वास कायम करना होगा।

ताकि वह फिर से आप पर यकीन कर सके। यदि आप पति के दोस्त के साथ रहना चाहती है।

तो पहले अपने माँ बाप से परामर्श करें । लेकिन पहले तलाक फिर पुनर्विवाह का सोचिए।

यदि आप पति के साथ नहीं रहना चाहती है। कारण आपको अपने पति के दोस्त के साथ ज्यादा अच्छा लगता है।

तो यह आपकी अपनी जिंदगी के फैसले हैं। जिसे लेने का आपको पूरा हक है। लेकिन जब तक

आप विवाह जैसे पवित्र बंधन में बंधी हुई है। तब तक आप अपने पति की पत्नी है। उस बंधन से मुक्ति

प्राप्त करने हेतु तलाक ही एकमात्र रास्ता है। जिसके बाद आप आजाद हो जाएंगी। इसके बाद आप शादी के

बंधन से आप मुक्त हो जाएंगी। यदि आप शादी के बंधन में भी रहना चाहती हैं और पति के दोस्त से भी

प्यार करना चाहती हैं। तो आपकी सोच पूर्ण रूप से गलत है। आपकी यह सोच बयां करती है कि आप

एक अच्छी औरत नहीं है। चाणक्य ने अपनी किताब में भी लिखा है कि वह नारी कभी भी किसी के भी

घर में जाकर सुख नहीं देती। जो एक पति के होते हुए गैर मर्द के साथ रिश्ता रखती हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.