निजी सीक्रेटमहिला स्वास्थशादी विवाहसंबंधसलाह / मार्गदर्शन

शादी करने से डर लगता है। लव मैरिज के फायदे और नुकसान

मेरा नाम प्रतीक्षा है। मेरे लिये घरवाले रिश्ते तलाश कर रहे है। लव मैरिज के फायदे और नुकसान बताइये

मेरे पापा इंजीनियर है। माँ टीचर है। मेरी बड़ी बहन की शादी हुई है। मगर वह भी हमारे साथ ही

अपने बच्ची के साथ रहती है। उसका अरैन्ज मेरिज हुआ था। उसके दुर्भाग्य से वो लोग लालची निकले।

दहेज और गहनों की मांग करने लगे। पापा ने नहीं दिया इसलिए मेरी बहन को उन्होंने छोड़ दिया।

इस घटना ने मेरे दिमाग पर बहुत असर किया है।मुझे शादी से डर लग रहा है। कभी कभी मुझे लगता

है, की लव marrage ही अच्छा है। मगर क्या पता,अगर मै लव मैरिज करती हु, और वह भी विफल हो

जाएगा तो बड़ी मुश्किल हो जाएगी। क्या आप बता सकती है की, लव मैरिज के क्या फायदे है, और क्या

नुकसान ? इससे मुझे सही फैसला लेने के लिये मार्गदर्शन मिलेगा।

ये भी पढे शादी को 8 साल हो गए। मातृत्व नहीं मिला है। पति डॉक्टरी इलाज से मना कर रहे है। – (myjivansathi.com)

हमारी सलाह : लव मैरिज के फायदे और नुकसान 

आपने अपनी भावना हमसे शेअर की, इसलिए सबसे पहले आपका स्वागत है। कई लड़किया चुप रहती

है। अपनी भावना जाहीर नहीं करती। परिणामस्वरूप कभी न कभी पछताना पड़ता है। क्या करें?

शादी एक ऐसा बंधन है जो,लड़का लड़की ही नहीं बल्कि दो परिवारों का भी मिलन होता है।

लेकिन आज के आधुनिक समय में,अधिकतर लोग अरेंज मैरिज की बजाए लव मैरिज यानी की प्रेम विवाह

को प्राथमिकता देने लगे हैं।ऐसा बिलकुल नहीं है कि पुराने समय में,लव मैरिज नहीं होती थी.

लेकिन उस समय इसका चलन के बराबर था।लव मैरिज का मतलब सिर्फ़ भागकर शादी करने से

बिलकुल नहीं होता क्योंकि,लव मैरिज परिवार की मर्ज़ी के ख़िलाफ़ भी होती है और उनकी सहमति से भी।

तो आइए जानते हैं इसके फायदे और नुकसान-

लव मैरिज के फायदे

अपनी पसंद का जीवनसाथी

शादी सात जन्मों का ना सही,कम से कम एक जन्म का तो अटूट बंधन होना चाहिए।इसलिए अगर जीवन साथी अपनी पसंद का हो तो जीवन जीने का आनंद ही अलग है।वहीं अरेंज मैरिज में जीवन साथी पसंद का न होने पर पूरी ज़िंदगी उसके साथ बिताना मुश्किल हो जाता है।

रीति रिवाज़ों से छुटकारा-

दहेज जैसी कुप्रथा को कम करने तथा जात पात का भेदभाव खत्म करने में लव मैरिज महत्वपूर्ण योगदान है।

रिश्तों का दबाव ना होना

लव मैरिज में जीवन साथी के चुनाव में और यहाँ तक की अधिकतर मामलों में कोर्ट मैरिज के बाद ही अपने माता पिता को सूचित किया जाता है।इसलिए लव मैरिज में रिश्तों का दबाव न के बराबर होता है।

विभिन्न संस्कृति और परंपराओं का मिलन-

अलग अलग संस्कृति में लव मैरिज करने से एक दूसरे की संस्कृति और परंपराओं को जानने और समझने का मौका मिलता है।इसका एक फायदा ये भी होता है कि इन के बच्चे विभिन्न संस्कृतियों में चलने की वजह से ज़्यादा आजादी से अपना जीवन जीते हैं।

ये भी पढे नॉर्मल डिलीवरी के उपाय जानना चाहती हु। मुझे सिजेरियन नहीं करवाना। – (gharelunuske.com)

लव मैरिज के नुकसान

माता पिता की भागीदारी न होना-

अधिकतर मामलों में माता पिता ,रिश्तेदार लव मैरिज के ख़िलाफ़ होते हैं इसकी वजह से उन्हें अपने माता पिता से अलग रहना पड़ता है और सामाजिक अलगाव का भी सामना करना पड़ता है।

आर्थिक समस्या-

परिवारजनों के द्वारा शादी का विरोध करने पर उन्हें घर से निकाल दिया जाता है।जिसकी वजह से उन्हें अपना जीवन यापन करने के लिए सब प्रबंध ख़ुद ही करने पड़ते हैं।इसी कारण उन्हें अपनी ज़िंदगी में आर्थिक समस्याओं का सामना भी करना पड़ता है।

बच्चों का पालन पोषण-

परिवार के लोगों द्वारा लव मैरिज को मंजूरी न मिलने पर उन्हें परिवार से अलग रहना पड़ता है तथा इसी कारण उनके बच्चे दादा-दादी,नाना-नानी और बाक़ी रिश्तों प्यार से वंचित रह जाते हैं।

तालमेल की कमी-

कई बार जीवन में आने वाली आर्थिक समस्याओं का सामना करने में जब परेशानी आती है तो यही कपल बाद में एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप करने लगते हैं।दोनों के रिश्तों में खटास आती है और बाद में इनके परिवार वाले भी उनका साथ नहीं देते।जबकि अरेंज मैरिज में कोई भी समस्या होने पर परिवार के सदस्य भी साथ होते हैं। 

हालाँकि ऐसा कोई पैमाना नहीं है जो यह सिद्ध कर सके  लव मैरिज या अरेंज मैरिज,दोनों में से कौन ज्यादा सफल होती है क्योंकि दोनों ही मैरिज में पारस्परिक सामंजस्य और तालमेल आवश्यकता होती है।कोई भी रिश्ता विश्वास और भरोसे पर का होता है।लेकिन ज़िंदगी का है। यह महत्वपूर्ण फ़ैसला लेने से पहले आपको इसके फ़ायदे और नुक़सान जरूर जान लेने चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.