तनावमहिला स्वास्थसंबंध

भाभी मेरे चरित्र पर उंगली उठाती है | क्या करूं?

मैं 21 वर्षीय अविवाहित युवती हूं और मेरे माता-पिता नहीं है। इसलिए मैं मेरे भाई के घर पर भाई और भाभी के साथ रहती हूं। मैं बहुत ज्यादा परेशान हूं क्योंकि मेरी भाभी मेरे चरित्र पर गलत इल्जाम लगाती है। उनका कहना है कि मेरे अपने भाई के साथ नाजायज संबंध है। इसके अलावा मेरी भाभी ने मेरा कॉलेज जाना भी बंद करवा दिया है। घर में आने जाने वाले हर पुरुष के साथ मेरे गलत संबंध होने का इल्जाम लगा देती है। मैं उनकी इन हरकतों की वजह से मानसिक रूप से परेशान रहने लगी हूं। आप ही बताइए कि मैं इस परेशानी से कैसे निकलूं। भाभी मेरे चरित्र पर उंगली उठाती है | क्या करूं?

हमारी सलाह : भाभी मेरे चरित्र पर उंगली उठाती है | क्या करूं?

बेवजह के इल्जाम


आपकी बातों से लग रहा है कि आपकी भाभी बेवजह ही आप पर इल्जाम लगा रही हैं।

जैसा कि आपने बताया कि आपके माता-पिता नहीं है तो यकीनन आप की भाभी आपकी जिम्मेदारी नहीं उठाना चाहती है।

इसलिए आप पर ऐसे बेहूदा इल्जाम लगाकर परेशान करने की कोशिश कर रही है।

लेकिन इसका यह मतलब बिल्कुल नहीं कि आप उनकी हरकतों की वजह से खुद को मानसिक तनाव दें।

सब कुछ चुपचाप सहन करने की बजाय आपको कोई बीच का रास्ता निकालना होगा।

भाभी से करें बातचीत


देखिए आपको शायद हमारी बात थोड़ी सी अटपटी लगे परंतु आपको यह कोशिश कर लेनी चाहिए।

अगर आप की भाभी ही आपको परेशान कर रही हैं तो आपको एक बार उन्हीं से बात करनी होगी।

बिना किसी झिझक के आप स्पष्ट पूछे कि आखिर उन्हें आपसे परेशानी क्या है।

हमें उम्मीद है कि वह गुस्से में ही सही पर अपने दिल की बात आपके मुंह पर जरूर कह देगी।

फिर आपका अगला स्टेप उनकी कही गई बात पर ही आधारित होगा।

हमारा मतलब कि अगर वह आपको अपने साथ नहीं रखना चाहती तो आप उसके आधार पर अपना अगला फैसला लें।

 भाई से साझा करें अपनी परेशानी


हमें लग रहा है कि आपके भाई को आपकी भाभी के व्यवहार के बारे में पता नहीं है।

इसलिए हो सके तो एक बार उन्हें इस समस्या से अवगत जरूर करवाएं।

यदि वे सच में आपको अपनी जिम्मेदारी समझते होंगे तो आपकी भाभी को इस मसले पर जरूर समझाएं।

हां अगर, वह आपकी भाभी से डरते हैं तो फिर आपके लिए यहां कोई हल नहीं मिलने वाला है।

शादी करने के लिए फैसला


देखो बहन! अब सारा दिन यहां लड़ाई झगड़े के माहौल में रहोगे तो यकीनन तुम्हें मानसिक तनाव तो होगा ही ना।

और इस बात में तो कोई शक ही नहीं है कि आपकी भाभी बेबुनियाद इल्जाम लगा रही है।

यह सब करने के पीछे की वजह भी साफ दिखाई देती है कि वह आपको अपने साथ नहीं रखना चाहती हैं।

आखिर चुप रह कर भी तो यह सब कब तक सहन करती रहोगी।

इसलिए अपने भाई से अपनी शादी करने के लिए कहा ताकि इस नर्क जैसी जिंदगी से बाहर निकल सको।

सारा दिन बिन मतलब के क्लेश में रहना नरक से भी बदतर होता है।

आपके होने वाला पति चाहे जैसा भी मिले लेकिन इस तरह के इल्जाम से मिलने वाले मानसिक तनाव से तो पीछा छूटेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अनाथ लड़की से शादी कैसे करें? शादीशुदा महिला के प्यार के इशारे भारत में लड़कियां कहां पर बिकती है अमीर औरतोंके महंगे शौक मांगलिक लड़कि ऐसे पहचाने