तनावदुनियाफॅशनमहिला स्वास्थमोबाइललाईफ स्टाइलशादी विवाहसंबंध

बिगड़ैल बेटी शादीशुदा लड़के के साथ घूमती है। क्या करू ?

दोस्तों एक शादीशुदा महिला अपने जवान बेटी के रवैये से बहुत परेशान है। अपनी समस्या उसने हमें भेजी है। हम राय दे रहे है, मगर आपके सुझाव की भी जरूरत है। क्योंकी आपका सुझाव कई लोगों की निजी समस्या हल कर सकता है। उन्होंने पूछा है, की घर की बेटी गलत राह अपना लें और अपने घरवालों की कोई बात ना सुनें तो उसे सही राह पर कैसे लाया जाएं?

उसका संबंध एक शादीशुदा लड़के के साथ है। वह अपने दोस्तों के साथ देर रात तक घूमती है, कई बार रात में वह बाहर रुक जाती है। यही उसकी जिंदगी है। प्यार से बहुत समझाने की कोशिश की। गुस्से भी किया पर कोई असर नहीं हुआ, क्या करें? जब घर की बेटी गलत रास्ता अपना ले और घरवालों की न सुने तो बिगड़ैल बेटी को ठोकर खाने के लिए छोड़ देना  चाहिए?

हमारी सलाह : बिगड़ैल बेटी शादीशुदा लड़के के साथ घूमती है। क्या करू ?

आपकी बातें सुनकर तो ऐसा ही प्रतीत हो रहा है कि आपकी बेटी के ऊपर संगति का असर है। वह जिन लोगों के साथ मिलती-जुलती है। शायद वह लोग भी उसके जैसे होंगे। इस वजह से वह उन्हीं की चाल-ढाल में ढल चुकी है। बात बहुत आगे तक निकल चुकी है। ऐसी परिस्थिति में उसे समझाने का कोई फायदा नहीं है क्योंकि वह अब वही करेगी जो वह करना चाहती है।

इसलिए आप उसे अपनी हालत पर ही छोड़ दें। कारण वह जिस राह पर चल रही है। उस राह पर उसे एक दिन ठोकर खाने को जरुर मिलेगा और उस दिन वह आपकी बातों को याद करेगी। लेकिन माता-पिता होने के नाते आपका कर्तव्य है अपने बच्चे को सही राह पर लाना। तो आप उसे अपनी तरफ से फिर से समझा सकते हैं।

शादीशुदा लड़के से संबंध बनाने से रोकिए

आपकी बेटी के आंखों में अभी पर्दा लगा हुआ है। इसलिए वह अपनी बंद आंखों से सच को नहीं देख पा रही है। इसलिए आप उसे समझाकर कहिए कि जो व्यक्ति अपने शादीशुदा पत्नी को छोड़कर उसके साथ संबंध बना सकता है। तो वह उसे धोखा देने में ज्यादा वक्त नहीं लेगा। कल अगर उससे भी सुंदर कोई लड़की उस लड़के को मिलेगी। तो शायद वह आपकी बेटी को छोड़ देगा। यह बात आपकी बेटी को आप को समझाना है।

देर रात तक घूमना गलत नहीं है लेकिन रात में बाहर रुकना गलत है

अपनी बेटी से कहिए कि देर रात तक वह अपने दोस्तों के साथ बाहर घूम सकती है। लेकिन बाहर रुकना सही नहीं है क्योंकि आज के समय में शादीशुदा औरत हो या सिंगल लड़कियां। कोई भी सुरक्षित नहीं है और कभी भी किसी के साथ कोई भी हादसा हो सकता है। उसके साथ गलत ना हो इसलिए आप लोग माता-पिता होने के नाते उसे बाहर रहने से मना करते हैं।

आप लोग भी बेटी के साथ कहीं बाहर जाया करें

यदि आप अपनी बेटी को सुधारना चाहते हैं। तो उसे सुधरने में वक्त लगेगा। इसके लिए उसका दिल जीतना बहुत जरूरी है। जब भी आप को मौका मिले आप अपनी बेटी को लेकर बाहर घूमने जाया करें। वह क्या करती है क्या खाती है। इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए कभी उसकी पसंद का भी खाना खाया कीजिए। तो उसे भी अच्छा लगेगा। हो सकता है कि वह कहीं ना कहीं खुद को अकेला महसूस करती है। इसलिए ज्यादा वक्त वह बाहर गुजारती है। जब आप लोगों का साथ उसे मिलेगा तो वह अकेला महसूस नहीं करेगी और धीरे-धीरे क्या पता आपके प्यार और तरीके से वह सुधर जाएं।

बेटी के अंदर पॉजिटिव वाइब्स डालने की कोशिश करें

जब आपकी बातों का उस पर असर नहीं हो रहा है। तो कुछ ऐसा कीजिए जिससे वह खुद-ब-खुद पॉजिटिव हो जाएं। कोई अच्छी मूवी दिखाइए। जिसमें गलत इंसान सुधर जाता है। इंटरनेट की मदद से आपको बहुत सारी ऐसी मूवीस, कहानी मिल जाएगी। जो आपकी बेटी की जिंदगी से जुड़ी हुई है। क्या पता उन सभी चीजों को देखकर। उसका मन बदल जाएं और वह फिर से आपकी पुरानी वाली बेटी बन जाएं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.