आयुर्वेदआरोग्यधार्मिकवास्तुशास्त्र

विपत्ति आने से पहले बताती है तुलसी, कैसे? आइए जानते है

कई बार तुलसी का पेड़ अच्छी तरह से देखभाल करने के बाद भी सूखने लगता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि अगर आपके घर में तुलसी सूखने लगता है। तो इसका अर्थ हैं कि आपके घर में कोई न कोई परेशानी आने वाली है। आप तुलसी के पौधे की कितनी भी देखभाल कर लें, यह संकट के समय में सूखने ही लगता है।

विपत्ति आने से पहले बताती है तुलसी, कैसे आइए जानते है

यदि अगर आपके घर, परिवार में कोई समस्या आने वाली होती है। तो इसका असर सबसे पहले आपके घर में मौजूद तुलसी के पौधे पर पड़ता है। तुलसी का पेड़ ऐसा है जो आपको पहले ही बता देगा कि आपको या आपके परिवार को कोई परेशानी होगी या नहीं। तुलसी यूं ही नहीं सूखता इसके पीछे बहुत सारे कारण हैं।

पुराणों में तुलसी के पेड़ की महिमा क्या है?

पुराणों और शास्त्रों के अनुसार देखा जाएं तो खतरा का  पता लगाने के लिए सबसे पहले घर की लक्ष्मी यानी माता तुलसी के पास जाएं। जिस घर में गरीबी, अशांति और क्लेश होती है उस घर में मां लक्ष्मी का वास नहीं होता। ज्योतिष शास्त्र में इसका कारण बुध को माना गया है। जब बुध ग्रह ठीक नहीं होता व्यक्ति के राशि में तब व्यक्ति बहुत सारी समस्याओं से जूझता है। जिसका इंगित तुलसी का पेड़ पहले ही दे देता है।

बुध एक ऐसा ग्रह है जो अन्य ग्रहों के अच्छे और बुरे प्रभावों को जातकों तक पहुंचाता है। यदि कोई ग्रह अशुभ फल देता है। तो उसका अशुभ प्रभाव बुध पर भी पड़ता है।

जान तुलसी के फायदे-

शायद आपको पता नहीं होगा की तुलसी के पेड़ के पास बैठकर दमा से छुटकारा पाया जा सकता है। तुलसी के चार पत्ते प्रतिदिन खाली पेट खाने से मधुमेह, रक्त विकार, पित्त आदि रोग दूर होते हैं।

तुलसी का रस बुखार और सर्दी में भी उपयोगी होता है। यह बच्चों के लिए विशेष रूप से फायदेमंद है। 10 से 15 तुलसी के पत्तों का रस निकाल लें। इस जूस को हर दो से तीन घंटे में पीते रहें। बहुत जल्द इसका लाभ होगा।

यदि व्यापार ठीक नहीं चल रहा हो, तो प्रत्येक शुक्रवार की सुबह दक्षिण-पश्चिम दिशा में स्थित तुलसी के पेड़ में कच्चा दूध चढ़ाएं और विवाहित महिला को मिठाई खिलाएं, व्यापार में आपको सफलता मिलेगी।

वास्तु के दोषों को दूर करने के लिए तुलसी के पौधे को दक्षिण-पूर्व कोने में लगाएं। रसोई घर के पास तुलसी का पेड़ रखने से पारिवारिक कलह समाप्त हो जाती है। 

यदि कन्या के विवाह में देरी हो रही हो तो प्रतिदिन दक्षिण-पूर्व में तुलसी के पेड़ को जल अर्पित करें। तो विवाह का संबंध शीघ्र तय हो जाता है।

घर में तुलसी का पौधा होने से परिवार में अपार सुख-समृद्धि आती है। वास्तु शास्त्र के अनुसार तुलसी एक बहुत ही शुभ पौधा है।

नकारात्मक ऊर्जा और भयानक बीमारियों से लड़ने के अलावा, तुलसी के पौधे में आपकी मदद करने के लिए विभिन्न गुण होते हैं। अधिकांश लोगों का मानना ​​है कि यह नाजुक पौधा घर में सकारात्मक शक्तियां भेजता है। यह हिंदू पौराणिक कथाओं में भगवान विष्णु सहित सभी देवताओं का पसंदीदा पौधा भी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.