ज्योतिषत्योहारदुनियाधार्मिकमहिला स्वास्थव्रत कथा

क्यों है इतना खास ये महीना

हिंदू धर्म के अनुसार वर्ष 2022 का जुलाई महीना बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इसके पीछे बहुत सारे कारण है क्योंकि इस महीने में गंगा दशहरा से लेकर निर्जला एकादशी। अमावस्या से लेकर रंभा तृतीया जैसे बड़े-बड़े त्यौहार भी पड़ रहे हैं। इसलिए इस महीने का बहुत ज्यादा महत्व है।

इस महीने में जो निर्जला एकादशी पड़ने वाली है। यह एकादशी भगवान विष्णु का सबसे प्रिय एकादशी है। इस बार वर्ष 2022 में यह एकादशी जून महीने में पड़ रहा है। इसलिए जून महीने की खासियत हिंदू धर्म एवं ज्योतिष आचार्यों के लिए बहुत ज्यादा है।

किस वजह से खास होने वाला है जून महीना?

रंभा तीज पड़ रहा है

जून महीना इसलिए खास होने वाला है क्योंकि इस महीने की शुरुआत ही रंभा तीज से हुई है। यह तीज कुंवारी कन्याएं भी रख सकती हैं और कहा जाता है कि जो भी कन्याए, महिलाएं या औरतें इस तीज को पूरे भक्ति भाव से रखती है। उनकी हर इच्छाएं पूरी होती है।

गंगा दशहरा

जून महीनेको और भी ज्यादा पवित्र एवं खाब बनाने वाला है, गंगा दशहरा। जून माह की गंगा दशहरा का खास महत्व इसलिए है क्योंकि यही वह दिन था। जिस दिन मां गंगा का आगमन धरती पर मनुष्य के उद्धार के लिए हुआ था।

निर्जला एकादशी

निर्जला एकादशी जिसे गायत्री जयंती के नाम से भी जाना जाता है इस सीधी का बहुत ही खास महत्व है क्योंकि यह तिथि भगवान विष्णु का सबसे प्रिय तिथि है। यदि कोई व्यक्ति पूरे विधि विधान से इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करेगा। तो उसके मन की सभी इच्छा भगवान विष्णु पूर्ण करेंगे।

प्रदोष व्रत

प्रदोष व्रत की तिथि भी जून महीने में ही लगने वाली है। उस दिन भगवान शिव की पूजा अर्चना अच्छे से करें।

योगिनी एकादशी

जून महीने में योगिनी एकादशी भी पड़ने वाली हैं। जो भी व्यक्ति इस एकादशी का पालन करेगा। उसे उसके सभी पापों से मुक्ति मिल जाएगी। कारण योगिनी एकादशी का पूजन करने से एक व्यक्ति को हजार ब्राह्मणों को भोजन कराने से जो पुण्य प्राप्त होता है। वह पुण्य प्राप्त होगा।

मासिक शिवरात्रि

हर महीने की तरह जून महीने में भी मासिक शिवरात्रि पड़ने वाला है।

दर्श अमावस्या

दर्श अमावस्या का जून महीने में बहुत ज्यादा महत्व है। इस अमावस्या के दिन स्नान, दान करने से और पितरों का श्राद्ध श करने से पुण्य प्राप्त होता है।

गुप्त नवरात्रि

एक साल में कुल 4 तरह के नवरात्रि पड़ती है। जिसमें से आषाढ़ महीने में पढ़ने वाले नवरात्रि को गुप्त नवरात्रि के रूप में जाना जाता है। इस नवरात्रि में भी मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है। यदि आप चाहे तो मां के नौ रूपों की पूजा कर सकते हैं और पूजा का लाभ भी उठा सकते हैं।

इसके अतिरिक्त जून का महीना बहुत अच्छा नहीं जाने वाला हैश। खासकर उनके लिए जो लोग व्यापारी हैं। व्यापार में थोड़ा उतार-चढ़ाव होता रहेगा। लेकिन महीने के अंत में आपका व्यापार तीव्र गति से आगे बढ़ेगा।

जून महीने और कितना खास होगा?

जून महीने में गरीबों का दिवाला निकलने वाला है क्योंकि महंगाई बढ़ने वाली है। खासकर रसोई गैस की कीमत आकाश तक छूने वाली है।

कुछ राशि के लोगों को जून महीने में बहुत ज्यादा प्रॉफिट कमाने का मौका मिलेगा। वहीं अन्य राशियों की बात की जाएं। तो कुछ एक राशि का जीवन मीडियम तरीके से चलेगा और कुछ का बहुत खराब।

ग्रह भी परिवर्तित होने वाले हैं। जिस वजह से उन लोगों को बहुत लाभ होने वाला है। जिनका पैसा डूबा हुआ है। डूबे हुए पैसे वापस मिलने का पूरा-पूरा संकेत दे रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.