धार्मिकभविष्यवास्तुशास्त्रसंबंध

इनसे होगी शादी तो हमेशा रहेगा विवाद.. सावधान..

मै ज्योतिष शास्त्र पर विश्वास नहीं करती हु। पति से दिनरात झगड़ा होता है। इनसे होगी शादी तो

हमारी शादी से पहले कुंडली देखि थी। मगर गुणमिलन नहीं होता था। फिर भी घरवालों ने

मेरी शादी कर दी । हम पति पत्नी की बात बनती ही नहीं है। किसी ना किसी बात पर हमारा

झगड़ा होता ही रहता है। ऐसा एक दिन मुझे याद नहीं है, की जिस दिन हमारा झगड़ा नहीं हुआ हो

मेरी राशि वृषभ है, और उनकी सिंह राशि है। क्या हमारा झगड़ा कभी खत्म होने की संभावना

है ? कृपया मुझे बताए, की कौन सी राशि वालों को कीस राशि वाले से शादी नहीं करनी चाहिये ?

Table of contents

हमारी सलाह : इनसे होगी शादी तो ……

जिनका स्वभाव हमारे अनुरूप नहीं है, उनसे शादी करके पछतावा ही हाथ लगेगा। और ज्योतिष शास्त्र

के रिजल्ट भी तभी सही होंगे, जब जनम समय, तीथी, जगह सही हो। अगर जनम कुंडली बनाते हुये कुछ

गलती हो जाए, तो पूरा नतीजा गड़बड़ हो सकता है। फिर भी आप पूछ रही है, तो शास्त्र में लिखी हुई

कुछ जानकारी आपको दे रहे है।

मेष राशिवाले की शादी मकर राशिवाली से होगी तो क्या होगा ?

मेष राशि के लोग जीवन में मस्ती और खुशियां चाहते हैं। वे इतने जिम्मेदार नहीं होते है। आवेगी और

जोशपूर्ण होते है। मेष मकर दूसरे पर भावनात्मक रूप से हावी होते है। इनके लिए मकर राशि

अधिक जिम्मेदार होती है। बिना सोचे-समझे वे अच्छे और बुरे को चुने बिना ये काम करते है।

उन लोगों के लिए जिनका थोड़ा कंट्रोलिंग नेचर भी होता है। मेष राशि के लोगों के ईमानदार और

रोमांटिक होने की संभावना अधिक होती है, मकर राशि वालों में ये विशेषताएं नहीं होती हैं।

वृष राशिवाले की शादी कुंभ राशिवाली से होगी तो क्या होगा ?

वृष राशि वालों के लिए दृढ़ता अधिक है। ये लोग ज्यादा ही तीखे होते हैं। कुंभ राशि वालों में

अधिक उत्साह और अधिक ऊर्जा होती है। ये दोनों नक्षत्र एक-दूसरे के अनुकूल नहीं हैं क्योंकि

कुंभ और वृष राशि वाले अपने सोचने के तरीके और स्वतंत्र व्यक्तित्व को बर्दाश्त नहीं कर सकते। 

वृषभ राशि के लोगों के लिए बिना किसी परामर्श के निर्णय लेना थोड़ा मुश्किल हो सकता है,

खासकर आर्थिक मामलों और घरेलू मामलों में। वृषभ वाले वास्तव में रहते हैं। वे दृढ़ता से मानते हैं

कि सपने और कल्पनाएं दोनों अलग अलग है । कुंभ राशि की कल्पनाशक्ति अधिक होती है।

मिथुन राशि का पति -मीन राशि वाली पत्नी : इनसे होगी शादी तो ?

मिथुन एक ऐसी मानसिकता है जो किसी बात की ज्यादा परवाह नहीं करती, मन को नहीं ढोती। 

जब दया और प्रेम जैसी तीव्र भावनाओं की बात आती है तो उन्हें कुछ असुविधा होती है। लेकिन, मीन राशि

वालों को उन पर अधिक दया और दया आती है। सभी राशियों में मीन राशि सबसे दयालु है। 

मिथुन मीन राशि को यह बताने में विफल रहते हैं कि वे उनकी समस्याओं को समझते हैं। 

इसी को लेकर दोनों के बीच मारपीट भी हो सकती है । भले ही मीन राशि मिथुन की मदद

करना चाहे, लेकिन ऐसी स्थितियाँ हैं की यह संभव नहीं है।

यह भी पढे खांसी की आयुर्वेदिक दवा Ayurvedic medicine for cough – Gharelu Nuske

कर्क राशि का पति –मेष राशि वाली पत्नी : कैसे होगा झगड़ा ?

कर्क राशि वाले लोग बहुत संवेदनशील होते हैं। किसी भी विषय में सापेक्ष नजर से देखते है।

सबको ये लोग अच्छे लगते है। मेष राशि वाले अपने गुस्से को सहन करने के मामले में थोड़ा

पीछे हटने को तैयार हैं। मेष राशि के लोग अधिक उत्साही होते हैं और औपचारिक रूप से थोड़ा

अधिक बोलते हैं। लेकिन, यह वही कर्क राशि उनके लिए कठिन जोड़ीदार है क्योंकि वे एक शांत,

आरामदायक वातावरण चाहते हैं। मेष राशि वाले इनकी हड़बड़ी को सहन नहीं कर पाते हैं,

जिनका शांत स्वभाव मेष राशि वाले सहन नहीं कर पाते। मेष राशि के लोगों

को वह सब कुछ पसंद होता है जो कर्क राशि के लोगों को पसंद नहीं होता है।

सिंह की पत्नी और वृष का पति इनसे होगी शादी तो कैसे होंगे विवाद ?

सिंह राशि के जातक मजेदार मानसिकता के होते हैं। वृष राशिवाले व्यावहारिक होते हैं, लगन भी उच्च होते हैं। 

आमतौर पर दोनों के एक-दूसरे के प्रति आकर्षित होने की संभावना कम होती है। वृषभ इस बात से नाराज हैं

कि वे कोई जोखिम नहीं लेते हैं, कि वे नियम का पालन करते हैं और यह उनके लिए सुविधाजनक है। 

उसी तरह सिंह अपने पागलपन को वृषभ राशि वालों को मूर्ख और अर्थहीन बना देते हैं।

कन्या राशिवालों को मिथुन राशिवाली से शादी क्यों नहीं करनी चाहिये ?

कन्या राशि वाले साथी अधिक व्यावहारिक और शक्तिशाली स्वभाव की होती है। उनके पार्टनर से भी

यही उम्मीद की जाती है। मिथुन उनकी जीवंत, मजेदार जीवन शैली के अनुकूल नहीं है क्योंकि कन्या

ध्यान और काम की अपेक्षा करती है। कन्या वाले प्यार का दिखावा नहीं करते , लेकिन मिथुन इसे प्यार करता है।

तुला – कर्क राशि वाली पति पत्नी

तुला राशि के लोगों को हर चीज में संतुलन की जरूरत होती है। तुला राशि वाले लोग जल्दी से कुछ भी तय नहीं कर पाते हैं, कर्क सोचता है कि कम से कम एक बार वे जो कहते हैं उसे स्वीकार करना बेहतर है। 

कर्क वाले लोगों के लिए भावनाएं और संवेदनशीलता अधिक महत्वपूर्ण होती है। तुला राशि के उनके संतुलन में ये संभव नहीं हैं।

तुला वाले – कर्क राशि वाली पत्नी से बचकर रहना

तुला राशि के लोगों को हर चीज में संतुलन की जरूरत होती है। तुला राशि वाले लोग जल्दी से

कुछ भी तय नहीं कर पाते हैं, कर्क सोचता है कि कम से कम एक बार वे जो कहते हैं उसे

स्वीकार करना बेहतर है। कर्क वाले लोगों के लिए भावनाएं और संवेदनशीलता अधिक

महत्वपूर्ण होती है। तुला राशि के उनके संतुलन में ये संभव नहीं हैं।

वृश्चिक राशि की पत्नी को सिंह राशिवाली पति से क्या नुकसान होता है ?

वृश्चिक ऐसी मानसिकता है जिनको अपना सबकुछ सही लगता है। किसी भी मामले में दृढ़

रहनेवाले ये लोग होते है। मगर सिंह राशिवाला साथी उनको सहन नहीं कर सकता। साथ ही सिंह

राशि वालों में नेता बनने की तीव्र इच्छा होती है, जो वृश्चिक राशि वालों को बिल्कुल भी पसंद

नहीं होती है। परिणाम स्वरूप दोनों के बीच एक विश्वास है। दोनों

छोटी-छोटी बातों पर भी घंटों बहस करते हैं। वे दोनों किसी से भी आत्मविश्वास से निपटते हैं।

धनु राशि वालों को कन्या राशि वालों से शादी क्यों नहीं करनी चाहिये ?

धनु राशि वाले जीवन में किसी भी तरह का दबाव नहीं झेल पाते हैं। ये लोग खुश-भाग्यशाली होते है।

कन्या राशि वालों की मानसिकता होती है कि सब कुछ परफेक्ट होना चाहिए, उन्हें हर चीज में कुछ न कुछ

गलत नजर आता है। धनु राशि वालों के लिए जीवन में नई नई चीजों की खोज करने का शौक है। 

दोनों की दिनचर्या, शौक एक दूसरे से मेल नहीं खाते है , उन्हें स्थिरता चाहिए।

मकर राशि वाला पति – तुला राशि वाली पत्नी : क्या रहेगा विवाद ?

मकर राशि वाले थोड़े कठोर होते हैं और चाहते हैं कि सब कुछ एक पैटर्न के अनुसार हो। 

वे लोग मन के विरुद्ध कुछ सहन नहीं कर सकते, उन्हें पार्टनर पर पकड़ चाहिए, लचीला होते हैं। 

जब यह इतना सख्त होते है, तुला वाले असहज हो जाते है। अगर आप इनसे शादी करते हैं

तो खुद को रोबोट की तरह महसूस करेंगे। इसके साथ ही वे जहां भी संभव हो एक-दूसरे की

आलोचना करते रहते हैं।

कुम्भ वाली पत्नी – वृश्चिक राशि का पति : क्या होगा झगड़े का स्वरूप ?

कुम्भ राशि वाले अपनी स्वतंत्रता को लेकर अधिक भावुक होते हैं। उनकी अपनी दुनिया में रहना

पसंद है। वे अपनी कल्पना से इस संसार का निर्माण करते हैं। वृश्चिक राशि के लोगों को यह

सब पसंद नहीं होता है। वृश्चिक राशि वाला जीवन में इतना कैजुअल नहीं रह सकता। साथ ही

कुंभ प्रेम और बंधन के मामले में थोड़ी दूरी बनाये रखता है, जिसे वृश्चिक भी बर्दाश्त नहीं कर

सकता। वे तब तक चुप नहीं बैठेंगे जब तक उन्हें वह नहीं मिल जाता जो वे चाहते हैं।

मीन राशि वाले को – धनु वाली से शादी क्यों नहीं करनी चाहिये ?

मीन राशि वालों में कल्पनाशक्ति अधिक होती है।  वे भावुक और संवेदनशील होते हैं। उनके पास बहुत

सारी आध्यात्मिक अवधारणाएँ भी हैं। धनु राशि वालों को भले ही सपने देखना पसंद हो, लेकिन वे इस

तथ्य को नजरअंदाज नहीं करते हैं। इसलिए उनके लिए मीन राशि को समझना मुश्किल है। मीन राशि

वालों के जीवन का लक्ष्य है, इसलिए धनु राशि वालों को समझ नहीं आता कि वे क्या कर रहे हैं। 

नतीजतन, दोनों एक-दूसरे के सामने खड़े नहीं हो सकते। धीरे-धीरे, व्यक्ति ऐसी स्थिति में

आ जाता है, जहां वह अपनी उपस्थिति को सहन नहीं कर सकता।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *