आरोग्यइतिहासधार्मिकव्रत कथा

तुरंत फल देता है सावन सोमवार का व्रत । खुद माता पार्वती ने की थी शुरुवात

सनातन परंपरा में सावन महीने का बड़ा महत्व है। और खासकर सावन सोमवार का व्रत शीघ्र फलदायी है

सावन महिना भगवान शिव को समर्पित होता है। इस महीने में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

इस महीने में पूजा और जलाभिषेक करने से भगवान शंकर शीघ्र प्रसन्न हो जाते है। सावन सोमवार व्रत

की खासियत ये है, की ये आपकी मनोकामना पूर्ण करता है। इसलिए सावन के सोमवार को पूजा करनी

ही चाहिये। क्योंकी इससे आपको तुरंत फलप्राप्ति होती है। आपकी जो भी मनोकामना है, वह नंदी के

कान में बोल दें। सावन सोमवार का व्रत सबको करना चाहिये

शायद इनको आप मदद कर सकते हो अकेली हु। मुझे भाई चाहिये और माँ बाप को जायदाद को वारिस – My Jivansathi

सावन सोमवार व्रत कैसे करें ?

पति पत्नी के संबंध में मधुरता के लिये भगवान शिव और पार्वती का एकसाथ पंचामृत से अभिषेक करना चाहिये।

चावल और खीर का प्रसाद अर्पित करें। अगर किसी को लंबे समय की बीमारी ठीक करनी है, तो सावन सोमवार

के दिन पानी में काले तिल मिलाकर शिवलिंग का अभिषेक किया जाता है। आर्थिक समस्या दूर करने के लिये

अनार के ज्यूस से शिवलिंग का अभिषेक करें। इस दिन उपवास रखें। जिनकी जनम कुंडली में राहू केतु के साथ

चंद्र की स्थिति है, उनको तो ये व्रत रखना ही चाहिये।किसी भी प्रकार की मानसिक बीमारी या समस्या या तनाव

दूर करने के लिये व्रत का करना बहुत जरूरी और फलदायी है।गुस्सैल स्वभाव वाले लोगों को तो इस व्रत से

बहुत बदलाव तुरंत देखे गए है।सावन सोमवार को उत्तर दिशा में तुलसी लगाने से घर का वातावरण शुद्ध होता है।

ये व्रत करनेवाले के सौभाग्य में वृद्धि होती है। सावन का महिना एक तरह से आपकी मनोकामना पूरी करने

के लिये महत्वपूर्ण है।

ये भी पढे गरीब विधवा हु। बहुत खुजली होती है। क्या करू ? – Gharelu Nuske घरेलू इलाज

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.