आयुर्वेदआरोग्यइतिहासधार्मिकभविष्यवास्तुशास्त्र

ग्रहण 2022 की संपूर्ण जानकारी

ग्रहण 2022 की संपूर्ण जानकारी

दोस्तों आप सभी को पता होगा कि जिस तरह से ग्रह एवं नक्षत्रों का

हमारे जीवन पर असर पड़ता है। ठीक उसी प्रकार से ग्रहण का भी असर हम सबके जीवन में पड़ता है।

आज हम अपने ब्लॉग पर ग्रहण के विषय में ही बात करने वाले हैं। वर्ष 2022 में जितने भी ग्रहण आने वाले हैं।

उन सभी ग्रहण के विषय में। आज हम खुलकर आप सभी से चर्चा करने वाले हैं।

यदि आप भी वर्ष 2022 के ग्रहण के विषय में जानना चाहते हैं, तो हमारे ब्लॉग को ध्यान से अंत तक पढ़िए।

क्या आप जानते हैं, ग्रहण क्या हैं?

ग्रहण के विषय में जानने से पहले, आपको खगोलीय पिंड के विषय में जानना होगा।

खगोलीय पिंड एक ऐसा पिंड है जो प्राकृतिक तरीके से पाया जाता है।

इसका निर्माण मानव ने नहीं किया है। आपने गैलेक्सी का नाम सुना होगा।

गैलेक्सी खगोलीय पिंड के अंतर्गत ही आता है।

ग्रहण तब लगता है जब सूर्य या चंद्रमा के बीच में यह खगोलीय पिंड आ जाते हैं।

जैसे तारे या कोई अन्य ग्रह। प्राकृतिक उपग्रह, ब्लैक होल आदि।

सूर्य ग्रहण कब एवं कैसे होता है?

सूर्य ग्रहण उस स्थिति में लगता है। जब चंद्रमा सूर्य को पूर्ण रूप से कवर करता है।

ऐसी स्थिति में जब सूर्य अपनी रोशनी पृथ्वी तक पहुंचाने में असमर्थ होता है। उसे ही सूर्य ग्रहण कहां जाता है।

वहीं अगर चंद्रमा सूर्य को आधा कवर करता है और सूर्य अपनी रोशनी धरती तक पहुंचा देता है।

ऐसी परिस्थिति को आंशिक सूर्यग्रहण कहा जाता है।

चंद्रग्रहण कब एवं कैसे होते हैं?

यदि पृथ्वी भ्रमण करते हुए चंद्रमा के ऊपर आ जाती है।

ऐसी परिस्थिति में चंद्रमा अपनी रोशनी सूर्य पर बिखरने  पर असमर्थ हो जाता है।

इसे ही चंद्रग्रहण कहा जाता है। भ्रमन करती है पृथ्वी के समग्र चंद्रमा आ जाता है और पृथ्वी सूर्य को ढक देती है।

परिणाम स्वरूप सूर्य की किरणे चंद्रमा पर नहीं पड़ती है। यही परिस्थिति ही चंद्र ग्रहण कहलाता है।

वहीं अगर पृथ्वी चंद्रमा को केवल केंद्रीय रूप से घेर लेती है। उसे आंशिक चंद्रग्रहण कहा जाता है।

आइए आप जानते हैं कि वर्ष 2022 में सूर्य ग्रहण एवं चंद्र ग्रहण कब-कब आएगा:-

सूर्य ग्रहण 2022

दिनांक सूर्य ग्रहण का समय कहां देखा जाएगा
३० अप्रैल २०२२००:१५:१९ से ०४:०७:५६ तकभारत में नहीं दिखाई देगा यह ग्रहण।वहीं अगर बात की जाए तो इस सूर्य ग्रहण को संपूर्ण दक्षिण अमेरिका सहित प्रशांत महासागर, अटलांटिक एवं अंटार्कटिका में देखा जाएगा।

30 अप्रैल 2022 में जो सूर्य ग्रहण लगने वाला है।वह एक आंशिक सूर्यग्रहण है।जो पृथ्वी के हर कोने से दिखाई नहीं देता।इसलिए यह सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा।

दिनांक सूर्य ग्रहण का समय कहां देखा जाएगा
२५ अक्टूबर २०२२१६:२९:१० से १७:४२:०१ तकएशिया के दक्षिण पश्चिमी भाग, अटलांटिक, अफ्रीका महाद्वीप एवं यूरोप।

24 अक्टूबर 2022 में जो सूर्य ग्रहण लगने वाला है। वह भारत के कुछ एक भाग में देखा जाएगा।

चंद्र ग्रहण 2022

दिनांक चंद्र ग्रहण का समय कहां देखा जाएगा
१५-१६ मई २०२२०८:५९:०३ से १०:२३:५५ मिनटयूरोप,उत्तर अमेरिका, दक्षिण अमेरिका, प्रशांत महासागर,हिंद महासागर,एशिया एवं अंटार्कटिका।

वर्ष 2022 में 15 एवं 16 मई को चंद्रग्रहण देखा जाएगा।

यह ग्रहण 2022 का पहला चंद्र ग्रहण होगा। इसे भारत में देखा जाएगा।

दिनांक  चंद्र ग्रहण का समय कहां देखा जाएगा
०८ नवंबर २०२२१७:२८ से १९:२६ तकयूरोप,एशिया,ऑस्ट्रेलिया, उत्तरी अमेरिका, हिंद महासागर और अंटार्कटिका।

दोस्तों हमने ग्रहण के विषय में जो भी जानकारी आपको दिया है। यह ज्योतिष शास्त्र द्वारा गणना किया गया है।

अगर आपको अच्छा लगे, तो ग्रहण 2022 की संपूर्ण जानकारी शेयर जरूर करना

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.