टाइम पासरिलेशनशीपलाईफ स्टाइलशादी विवाहसंबंध

तलाकशुदा महिला से दोस्ती कैसे करें?

फेसबुक एक ऐसा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म है। जहां पर पुराने से पुराने मित्र मिल जाते हैं। बिछड़ा हुआ परिवार फिर से जुड़ जाता है। लोगों को उनकी गर्लफ्रेंड यहां तक की जीवन साथी तक मिल जाते है। यहां तक कि कुछ लोगों को फेसबुक के जरिए काम करने का मौका भी प्राप्त होता है।

फेसबुक पर तलाकशुदा महिला से दोस्ती कैसे करें?

आज फेसबुक पूरे विश्व में ऐसा प्लेटफॉर्म बन चुका है। जहां से कोई भी काम को करना असंभव नहीं है। यदि आप कोई नया व्यापार करना चाहते हैं। तो फेसबुक में अहम भूमिका निभाता है। यदि आप शादी करने के लिए लड़की या लड़का ढूंढ रहे हैं। तो फेसबुक उसमें भी आपकी पूरी मदद करता है। यदि आप डिजिटल मार्केटिंग, कन्टेंट राइटिंग का काम सीखकर अपने जीवन में कुछ करना चाहते हैं। तो वह आप कर सकते हैं। 

फेसबुक जैसे महान प्लेटफार्म पर आपको कुछ भी सीखने को मिल सकता है। यदि आप तलाकशुदा महिला से दोस्ती करना चाहते हैं। तो फेसबुक में बहुत सारे ग्रुप है। जहां पर आपको तलाकशुदा महिलाएं मिल सकती है। जिनसे आप दोस्ती कर सकते हैं। यह काम कैसे करेंगे किस प्रकार करेंगे इस विषय में भी हम चर्चा करेंगे।

तलाकशुदा महिला आप दोस्ती के लिए क्यों चाहते हैं?

क्या कारण है कि आप सिर्फ एक अच्छी महिला की तलाश नहीं कर रहे है? इस दुनिया में ऐसी महिलाएं भी हैं जिनकी कई कारणों से शादी नहीं हो पाई है। जैसे कि नौकरी के लिए उच्च शिक्षा प्राप्त करने में वह व्यस्त रही हो। तलाकशुदा पुरुष और महिलाएं हर जगह हैं। तलाक यह संकेत दे सकता है कि वे अपने पिछले रिश्ते में खुश नहीं थे। तलाकशुदा औरतें हमेशा अपने जीवन में किसी को पाने के लिए बेताब नहीं होती हैं। जब तक कि वह अपने अतीत के दर्द से ठीक नहीं हो जाती है।

फेसबुक ग्रुप में तलाकशुदा महिला मिलेंगी कैसे?

कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है। फेसबुक ग्रुप बहुत तरीके के होते हैं। कोई शिक्षा का ग्रुप होता है। कोई किसी परीक्षा से संबंधित ग्रुप होता है और शादी से संबंधित ग्रुप भी होता है। ठीक वैसे ही तलाकशुदा महिला जो अकेली होती हैं। उनके लिए भी महिला द्वारा ही एक ग्रुप बनाया जाता है। ऐसे ग्रुप को ज्वाइन करने के आप तलाकशुदा महिला से दोस्ती कर सकते हैं। यह ग्रुप आप को कैसे मिल जाएगा। इसके लिए आपको थोड़ा सा रिसर्च करना होगा फेसबुक पर ही आप सर्च करके ग्रुप को पा सकते है। साथ ही उस ग्रुप से जुड़कर तलाकशुदा महिलाओं से दोस्ती भी कर सकते है‌।

हालांकि यह फेसबुक ग्रुप सिर्फ तलाकशुदा महिलाओं के लिए नहीं होता है, यह आपको कठिन समय से गुजरने में मदद करने के लिए प्रेरणा पाने और सकारात्मक सोच के साथ अपने नए जीवन के निर्माण की आंतरिक प्रक्रिया पर काम करने के लिए मदद करने वाली एक शानदार जगह भी है। यह एक समूह है, इसलिए आपके व्यक्तिगत विचार और सपने निजी रहते हैं।

दोस्ती करने के लिए ज़ोर‌ ना करें

जब व्यक्ति ताज़ा चोट खाता है। तो उस चोट के दर्द का अहसास व्यक्ति को तब तक रहता है। जब तक चोट का घाव सूख‌ नहीं जाता है। लेकिन फिर भी चोट से उत्पन्न होने‌ वाले दाग बार-बार चोट की याद दिलाते हैं। इसलिए तलाकशुदा महिला से दोस्ती करने के लिए उनको ज़ोर ना करें। हां, उनसे दोस्ती करने के लिए एक अच्छा माहौल विकसित करें। बहुत जल्दी संबंध बनाने की कोशिश करने से उनको ऐसा लगेगा कि आप उनकी भावनाओं की परवाह नहीं करते हैं और अगर वह किसी भी चीज़ के लिए तैयार नहीं होगी। तो वह आपको इग्नोर भी कर सकती हैं।

तलाक बहुत मुश्किल समय होता है

जो तलाकशुदा महिला होती हैं। वह अपने जीवन में एक बार धक्का खाकर बहुत संभल जाती है। तलाक के बाद वह अपनी आगे के जीवन में बहुत सोच समझकर फैसले लेती है। ऐसे में अगर आप एक अच्छे दोस्त के रूप में उनका साथ देंगे। तो कोशिश ऐसी किजिएगा कि वह आपसे कभी हर्ट ना हो। उनको कभी किसी बात के लिए डांटिएगा नहीं। अगर उसे रोने के लिए कंधे की जरूरत है, तो उसके लिए आप हमेना तैयार रहिएगा। यदि आप चाहते हैं कि वह आपकी ओर सकारात्मक, प्रेमपूर्ण निगाहों से देखे, तो आपको यथासंभव सहयोग करने की आवश्यकता होगी।

यदि आप कुछ दिलचस्प करने के लिए बाहर जा रहे हैं, तो उनको भी ज़रूर आमंत्रित करें। कारण एक नए सिरे से जिंदगी को शुरू करने के लिए, कुछ नया हमेशा करना पड़ता है। यदि आप एक दोस्त के रूप उनका साथ देंगे। तो वह हमेशा खुश रहेंगी और धीरे-धीरे अपने अतीत को भूल जाएंगी।

निष्कर्ष

तलाकशुदा महिलाओं जितना कठिन नहीं है। उससे भी ज्यादा कठिन उनके साथ दोस्ती करना होता है। कारण तलाकशुदा महिला अपने जीवन में बहुत सारी संघर्षों को देखते हुए आती हैं। एक बार जो व्यक्ति पहले से ही धोखा खाया हुआ रहता है या तलाक शुदा होता है। वह दूसरी बार शादी जैसी गलती करने की गलती, गलती से भी करने की नहीं सोचता है।

इसलिए उनका मन जीतने के लिए पहले आपको दोस्ती ही करनी होगी। अपने दोस्तों को इस तरह से मजबूत बनाइए ताकि आपके और उनके बीच में कोई तीसरा व्यक्ति कभी ना आ सकें और जैसे ही आपको लगे कि आपकी दोस्ती मजबूत हो रही है और तलाकशुदा महिला भी अपने अतीत को भूल रही है। तब आप शादी जैसे प्रस्ताव को उनके समक्ष रख सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.