इतिहासधार्मिकनिजी सीक्रेटरिलेशनशीपलाईफ स्टाइलशादी विवाह

महाभारत में पाँच पांडवों में से द्रौपदी को सबसे ज्यादा प्रेम कौन करता था?

पंच पांडवों में से द्रौपदी महाभारत में पाँच पांडवों में से द्रौपदी को सबसे ज्यादा प्रेम कौन करता था?

पांच पांडव और द्रौपदी को कौन नहीं जानता।अगर पांडव ना होते तो द्रौपदी का विवाह पांच लोगों से ना होता।

आज हम द्रौपदी के संबंध में कुछ खास बातें बताऐंगे कि द्रौपदी अपने किस पति के बेहद करीब थी।

द्रौपदी कौन थी?


द्रौपदी पांचाल के राजा द्रुपद की बेटी थी।

वह पंच पांडवों की पत्नी होने के साथ-साथ एक रानी भी थी।

वह अपनी सुंदरता और अपनी इच्छा के लिए समान रूप से प्रसिद्ध थी। 

ज्वालामुखी की तरह उसने अपने दुश्मनों को राख में बदल दिया था।

ये पढ़ा क्या ? क्या द्रौपदी पतिव्रता थी? – My Jivansathi क्या द्रौपदी पतिव्रता थी? चलो देखते है

नाम का अर्थ-


द्रौपदी, जिसका अर्थ है द्रुपद की बेटी।

इनको कई अन्य नामों से भी जाना जाता था। पांचाल राज्य की राजकुमारी के रूप में उन्हें पांचाली के नाम से जाना जाता था।

सुंदर कन्या-


द्रौपदी अत्यंत सुंदर, बुद्धिमान और गुणी महिला थी।

जिसके शरीर से ताजे खिले हुए कमल जैसी महक आती थी। 

हिंदू पौराणिक कथाओं में बहुत कम महिलाएं ही थी,जो आक्रामक थी। 

दृढ़ निश्चयी


द्रौपदी ने जीवन के परीक्षणों को सहन करने की शक्ति विकसित कर ली थी। 

उसने दृढ़ निश्चय किया था कि वह अच्छे लोगों को नुकसान नहीं पहुंचाएगी और दुष्टों के सामने कभी नहीं झुकेगी।

द्रौपदी एक महिला थी, लेकिन वे ऐसे ही दृढ़ संकल्प के कारण वीर पांडवों के समान प्रसिद्ध हुई थी।

द्रौपदी का विवाह 5 लोगों के साथ कैसे हुआ?


वैसे तो द्रोपदी का विवाह अर्जुन के साथ ही हुआ था।

लेकिन विवाह के पश्चात जब अर्जुन घर पहुंचे और उन्होंने अपनी मां से कहा कि मां मैं आपको कुछ दिखाना चाहता हूं।

उस वक्त अर्जुन की मां ने बिना कुछ जाने समझे यह कह दिया कि जो भी लाए हो, उसे पांचों भाइयों में बांट लो।

इस तरह से द्रौपदी का बंटवारा पांच पांडवों में हो गया।

द्रौपदी के पांच पतियों के नाम है-

  1. युधिष्ठिर
  2. भीम 
  3. अर्जुन 
  4. नकुल 
  5. सहदेव

क्या अर्जुन द्रौपदी से ज्यादा प्रेम करते थे?


द्रौपदी का विवाह सबसे पहले अर्जुन से हुआ था और अर्जुन ही द्रौपदी के सबसे करीब थे। 

द्रौपदी ने अर्जुन को और अर्जुन ने द्रौपदी को एक ही नजर में मन ही मन प्यार कर लिया था।

अर्जुन द्रौपदी से इतना प्यार करते थे कि स्वयंवर में उनका दिल जीतने के लिए एक ही तीर

में पानी में देखकर मछली पर निशाना साध दिया था।

अर्जुन ने द्रौपदी के साथ-साथ उनके पिता का दिल भी जीत लिया था।

लेकिन यह सभी बातें सच होते हुए भी सच नहीं है। वास्तव में द्रोपति से सबसे ज्यादा प्रेम भीम करते थे क्योंकि

अर्जुन भले ही द्रौपदी से विवाह किए थे। लेकिन वे सबसे ज्यादा प्रेम श्री कृष्ण भगवान की बहन सुभद्रा से करते थे।

भीम करते थे द्रौपदी से अन्य पांडवों से ज्यादा प्यार 


पंच पांडवों में से भीम अपने पत्नी द्रौपदी से सबसे ज्यादा प्यार करते थे।

ऐसा इसलिए क्योंकि भीम ही वह व्यक्ति थे जो सबसे ज्यादा क्रोधित हुए थे।

जब द्रौपदी को जुए में हारने पर युधिष्ठिर ने दाव पर लगाया था।

भीम के अतिरिक्त अन्य किसी ने भी युधिष्ठिर के प्रति अपने गुस्से को नहीं दिखाया था।

भरी सभा में जब द्रौपदी का चीर हरण दुशासन द्वारा किया जा रहा था।

 उसी वक्त भीम ने प्रण लिया था कि वह उसके छाती का रक्त पीऐंगे और भीम ने अपने प्रण का पालन किया था।

भीम के संबंध में कहां जाता है कि अन्य पांडवों में से एक भीम ही थे जो हर समय द्रौपदी का ख्याल रखते थे। 

उन्हें ही द्रौपदी की सबसे ज्यादा चिंता होती थी और उसी के आधार पर कहा जाता है कि

द्रौपदी के पांच पतियों में से सबसे ज्यादा प्रेम भीम भी करते थे।

द्रौपदी को सबसे ज्यादा प्रेम कौन करता था? ये तो आपको पता चल गया। हमारे और भी लेख पढे और इतिहास में खो जाएँ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please remove adblocker