निजी सीक्रेटबिजनेसरिलेशनशीपशादी विवाहसंबंध

दूसरी क्या तीसरी पत्नी भी बनने के लिए तैयार है यहाँ की लड़कियां

अगर आप एक लड़की है और आपको शादी की जल्दी है। लेकिन आपको शादी के लिए अपने मन अनुसार कोई पसंद का लड़का नहीं मिल रहा तो ऐसी परिस्थिति में आप क्या करेंगी? शादी करेंगी या आजीवन कुंवारी रहेंगी। यदि आप भारत में रहती हैं तो आपको कभी भी ऐसी परिस्थिति का सामना नहीं करना पड़ेगा।

शादी के लिए आपको कोई लड़का नहीं मिल रहा है ऐसा भारत में बहुत कम होता है। भारत में परिस्थितियां विपरीत है, यहां पर शादी के लिए लड़कियां बहुत कम मिलती हैं। यहां तक कि भारत में यदि लड़का नहीं मिल रहा है तो लड़की कोशिश करती रहेंगी और सफल भी होंगी। भारत में लड़कों की संख्या लड़कों से अधिक है।

भारत से दूर एक देश ब्राजील के विषय में आज हम बात करेंगे। जहां पर लड़कियों का विवाह होने में बहुत दिक्कत हो रहा है और मजबूरन वहां की लड़कियों को लड़के की दूसरी या तीसरी पत्नी बन कर रहना पड़ता है। कारण कुछ इस प्रकार है-

क्या ब्राजील में लड़कों की संख्या लड़कियों की तुलना में कम है?

ऐसा नहीं है कि ब्राजील में लड़कों की संख्या लड़कियों से कम है। या फिर लड़कियों की संख्या लड़कों से ज्यादा है। हां कुछ एक कम ज्यादा है। लेकिन ऐसा भी अकाल नहीं आया है, वहां पर की लड़कों की संख्या कम गई है। जिस वजह से लड़कियों को लड़के शादी के लिए नहीं मिल रहें।

तो फिर क्यों लड़कियां किसी लड़के की तीसरी पत्नी बनने के लिए राजी होती हैं?

ब्राजील तो एक देश है। जिस तरह से भारत एक देश है। लेकिन पूरे ब्राजील में लड़कों की कमी के कारण लड़कियों की शादी नहीं होती यह कहना गलत होगा। लड़कों का अकाल ब्राजील के नोइवा नामक एक कस्बे में पड़ चुका है। अकाल होने के पीछे एक बहुत बड़ी बात छिपी हुई है।

क्या कारण है कि नोइवा कस्बे में लड़कियों को लड़के नहीं मिल रहे शादी के लिए?

नोईवा कस्बे में जो भी लड़कियां रहती हैं। वह सभी लड़कियां बहुत सुंदर दिखती है। लेकिन उनके वहां पर कुछ एक परंपरा के अनुसार लड़कियां शादी के बाद अपने पति के साथ उसके घर नहीं जाती। बल्कि लड़के को ही अपने घर में घर जमाई बना कर रखती है। हालांकि घर जमाई बनना हर लड़के द्वारा संभव नहीं होता। इसलिए वह वहां की लड़कियों के बारे में सुनकर ही शादी के लिए मना कर देते हैं।

इसी वजह से वहां की लड़कियां शादी नहीं कर पाती हैं। शादी के बाद लड़कियों का ही राज अपने पति पर चलता है। जो लड़कियां अपने पति को ही घर जमाई बना कर रखती हैं।

नोईवा के पुरुषों को घर जमाई बनना स्वीकार नहीं होता

बहुत कम ही ऐसे पुरुष होते हैं। जो चाहते हैं कि उनकी पत्नी उन पर अपना अधिकार जमाएं। लेकिन हर पुरुष वैसे नहीं होते। जो अपनी पत्नी के हर बात को सुने। इसलिए ब्राजील के नोइवा में कोई भी लड़के शादी जल्दी नहीं करना चाहते। इस वजह से वहां पर लड़कों की कमी हो रही है। जो अकाल का रूप धारण कर रहा है। 

बहुत उम्र वाले लोग लड़कियों से शादी करते हैं और घर जमाई बनते हैं

जब शादी के लिए लड़के मिलते हैं तो वह लड़के पहले से ही दो पत्नियों के पति रह चुके होते हैं। ऐसे में लड़कियों को मजबूरन तीसरी पत्नी का दर्जा मिलता है और तब जाकर उनकी शादी होती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.