लाईफ स्टाइलसंबंधसलाह / मार्गदर्शन

पति के साथ मुझे संकोच होता है | कैसे कम करू एकदूसरे की दूरी?

नमस्कार मेरा नाम नीलिमा है और हाल ही में मेरी शादी हुई है। लेकिन मेरी शादी लव नहीं अरेंज मैरिज है। लेकिन मैं अपनी इस शादी से बहुत खुश हूं क्योंकि मेरे पति एक बहुत ही अच्छे व्यक्ति हैं और अच्छी जगह नौकरी भी करते हैं। हमारे संबंध में एक ही मुश्किल आ रही है। वह मुश्किल यह है कि हम दोनों एक दूसरे से ज्यादा बात नहीं करते हैं। मेरे पति ज्यादा संकोच महसूस करते हैं और मुझे भी संकोच होता है बात करने में। लेकिन मैं हम दोनों के बीच के संबंध के कम्युनिकेशन गैप को ठीक करना चाहती हूं। एक्सपर्ट कृपया मुझे सलाह दीजिए कि मैं कैसे हम दोनों के बीच के इस गैप को दूर करूं।

हमारी सलाह : पार्टनर के साथ कम्युनिकेशन गैप होने पर क्या करना चाहिए?

आप दोनों की शादी अरेंज मैरिज है। इसलिए हो सकता है कि आप दोनों एक दूसरे से बात करने में थोड़ा शर्माते हैं। ऐसा शुरू-शुरू में होता है। जैसे जैसे दिन बीतता चला जाता है। कम्युनिकेशन गैप की समस्या भी दूर हो जाती है। लेकिन आप हमसे अगर सलाह चाहती है। तो हम जरूर आपको सलाह देंगे। ताकि आपको इस नए रिश्ते को आगे बढ़ाने में पूर्ण रूप से मदद मिल सकें।

पॉजिटिव बातों से शुरुआत करें बात करना

यदि आप अपने पति से बात करना चाहती हैं तो उनसे बहुत ही प्यार से पॉजिटिव बातें कीजिए। उनके बारे में पूछिए। उनकी पसंद नापसंद को जानिए। इस प्रकार से वह एक दोस्त की तरह आपसे घुलने मिलने लगेंगे और धीरे-धीरे वह भी आपसे बात करना चाहेंगे।

एसएमएस के जरिए भी बात कर सकती हैं

जिस तरह से लव मैरिज में पहले गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड दोनों पार्टनर एक दूसरे की पसंद ना पसंद को जानते है।  ठीक वैसा ही प्रयोग आप भी कर सकती है। अपने पति के साथ यदि वह बात करने में संकोच करते हैं। तो आप मैसेज का सहारा लीजिए और उन्हें टेक्स्ट मैसेज के जरिए जाने की कोशिश कीजिए। इससे आप दोनों को ही अच्छा महसूस होगा और आप दोनों के बीच का कम्युनिकेशन गैप भी दूर होगा।

छुट्टी के दिनों में एक साथ समय बिताएं

किसी भी नए रिश्ते को शुरुआत करने के लिए एक दूसरे को जानना बहुत जरूरी होता है। जानने के लिए एक दूसरे को समय देना जरूरी है। इसलिए जब भी आपके पति को छुट्टी मिले। तो प्लान बनाइए और कहीं घूमने जाइए और एक दूसरे के साथ समय बिताइए। इससे दोनों को एक दूसरे को जानने का संपूर्ण मौका मिलेगा और जो बातें इतने दिनों से नहीं हो रही है वह बातें भी होने लग जाएगी।

जब भी बात करें, तो एक ही टॉपिक पर बात ना करें

आपको अपने पति से जब भी बात करने का मौका मिलें। तो उस मौके को बिल्कुल भी हाथ से जाने मत दीजिएगा। हमेशा कोशिश कीजिएगा अलग-अलग टॉपिक पर बात करने की। यदि आप बार-बार एक ही विषय पर बात करेंगी तो वह बोर हो जाएंगे और फिर आपसे बात भी नहीं करेंगे।

उनकी बातों को बिल्कुल भी ना काटे

जब भी एक दूसरे से बात करें। तो कोशिश कीजिए एक दूसरे को पूर्ण रूप से सुनने की। कभी भी एक दूसरे की बात काटने की कोशिश ना करें इससे संचार में अभाव आता है और दूरियां बढ़ जाती है।

खुलकर नहीं कह पाती तो इशारों में जाहिर करें पार्टनर को अपना प्यार

इस तरह से आप अपने शादीशुदा रिश्ते की शुरुआत कर सकती हैं। अपने पति से बात कर सकती हैं और उनको भी बात करने के लिए प्रोत्साहित कर सकती हैं। शुरुआत कोई भी करें। कोशिश यही होनी चाहिए कि इस संबंध में कोई गैप ना आए और संबंध जो है वह स्ट्रांग बने।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.