तनावमहिला स्वास्थसंबंधसलाह / मार्गदर्शन

पति कमजोर है। कुछ लफंगे मुझपर लाइन मारते है,उनसे पीछा कैसे छुड़ाऊ?

मै एक गरीब परिवार की शादीशुदा महिला हूं, पैरालिसिस के कारण पति कमजोर है।

सांस और मै दूसरों के यहाँ काम करके अपना गुजारा करते है। ससुर 2 साल पहले गुजर गए है।

कुछ मवाली लफंगे लड़के हमारे घर के आसपास मंडराते रहते है। किसी बहाने से घर में भी घुसने की

कोशिश करते है। अनजान नंबर से कॉल करते है। मुझे बहुत डर लगता है। मेरे पति उनका मुकाबला

नहीं कर सकते। 2-3 बार झगड़ा करके भी देखा, मगर वो ज्यादा ही परेशान करते है। ग्राम मुखिया

से भी बात की, मगर कुछ फायदा नहीं हुआ। ये लफंगे मुझपर लाइन मारते है,उनसे पीछा कैसे छुड़ाऊ?

ये भी पढे पति बेरोजगार है। बैंकवाले परेशान करते है। धनप्राप्ति के आसान उपाय बताइये – (myjivansathi.com)

हमारी सलाह : पति कमजोर है। कुछ लफंगे मुझपर लाइन मारते है

यदि आप शादीशुदा हैं और आपके पीछे कुछ लफंगे पड़े हुए हैं। ऐसे में आप उनसे पीछा छुड़ाना चाहती हैं

तो आपको पुलिस की मदद जरूर लेनी चाहिए।

दुनिया में कोई भी काम ऐसा नहीं है जो नामुमकिन है। बस कोशिश करनी होती है नामुमकिन काम को

मुमकिन करने के लिए।यदि आपके पति कमजोर है और इस बात का फायदा बाहर के लफंगे ले रहे है।

तो आपको डरने की जरूरत नहीं है।डरने से काम बिगड़ता है। यदि लफंगे आपको लाइन मारते है तो

आपको बिल्कुल भी डरना नहीं है। यदि आप डरेंगी तो वह आपको हानि पहुंचा सकते है।

खुद को कमज़ोर ना समझे


नारी कमज़ोर नहीं होती है। मां दुर्गा, मां भवानी, मां पार्वती यदि कमजोर होती तो आज इस धरती पर

प्रलय आ जाता। लेकिन सभी ने अपनी शक्ति की प्रतिभा को दिखाया है। तभी तो महिसासुर मर्दिनी

नाम प्रसिद्ध है।आप में भी मां दुर्गा का अंश है। यदि लफंगे ज्यादा तंग करे तो बस बन जाइए

मां दुर्गा उठा लीजिए विरोध शस्त्र और खत्म कीजिए असुरों। खुद डरने के बजाय लफंगों को डराइए।

ताकि वह आपसे डर जाए और फिर किसी औरत पर अपनी नज़रें ना गढ़ाए।

गलत को बिल्कुल भी ना सहे


अक्सर कहा जाता है कि अन्याय करने से ज्यादा सहने वाला गुनाह ज्यादा करता है।

यदि आपके साथ कुछ गलत हो रहा है तो चुपचाप सहकर आप गलत को बढ़ावा दें रही है।

यदि आप विरोध करेंगी तो आप गलत चीज़ की शिकार नहीं होंगी।

लफंगों को सबक सिखाइए


अक्सर ऐसा होता है की राह चलते लफंगे जिनको लोफर भी कहा जाता है।

वे लोग औरतों के पीछे,लड़कियों के पीछे हाथ धोकर पड़ जाते हैं।

ऐसे लोगों को सबक सिखाना बहुत जरूरी होता है। लातों के भूत बातों से नहीं मानते।

खुद हैंडल करने की कोशिश कीजिए लफंगों को


यदि आप लफंगे लोगों से खुद ही हैंडल कर लेती हैं। तो अच्छी बात है।

यदि फिर भी आपसे यह परिस्थितियां हैंडल नहीं हो रहा है।

 तो आपको जल्द से जल्द लोकल पुलिस स्टेशन की मदद लेनी चाहिए।

कानून की मदद से आप बच सकती है


हमारे भारत देश की सरकार औरतों की सुरक्षा के लिए हमेशा तत्पर रहती है।

यदि आप पुलिस का सहारा लेंगी तो बात बहुत आगे बढ़ने से रूक सकती है।

अन्यथा यह लफंगे लोग आपके साथ कुछ गलत भी कर सकते हैं।

हमारे कानून में लफंगों के लिए सजा है। कानून की मदद से आप लफंगों को ना केवल सजा दिलवाऐंगी

बल्कि खुद भी सुरक्षित हो जाएंगी।

निष्कर्ष


हमारे समाज में आज भी औरतों को कमजोर माना जाता है। लेकिन जो लोग कमजोर औरतों को मानते हैं।

वास्तव में वह लोग ही कमजोर होते हैं। एक नारी में इतनी शक्ति होती है कि वह जब रौद्र रूप धारण करती हैं।

तो अच्छे से अच्छे लोगों को सबक सिखा देती हैं। आप भी एक औरत है और आपको खुद को कभी भी

कमजोर नहीं समझना है। कमजोर लोगों का हर कोई फायदा उठाना चाहता है।यदि आप आवाज उठाएगी

तो आप पर कभी कोई आंच नहीं आएगा। आप नारी है। सशक्त है। बलवान है।

आप बुलंद रहिए देखिएगा कोई आपको कभी हानि नहीं पहुंचा पाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.