मनोरंजनरिलेशनशीपशादी विवाहसंबंधस्पेशल

विधवा महिला से शादी करने से पहले ये जरूर पढ़ें

विधवा महिला से शादी करने के क्या नुकसान है?

विधवा उस महिला को कहा जाता है जिस महिला का पति मृत्युलोक पहुंच गया हो। जिस औरत का पति मर जाता है उसे ही विधवा कहा जाता है।

आज हम आपको बताने वाले हैं कि विधवा महिला से शादी करने के बाद आपको किस तरह के नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। विधवा महिला से शादी करने से पहले ये जरूर पढ़ें

एक विधवा महिला की डेटिंग प्रक्रिया आम डेट से अलग होती है। विधवा होने वाली तमाम महिलाओं में बहुत कम ही महिलाएं। ऐसी होती है। जो विधवा होने के बाद दूसरी शादी के लिए राजी होती है।

जो भी व्यक्ति विधवा महिला से शादी करने के लिए राजी होते हैं। उनको साक्षात भगवान का स्वरूप मानना चाहिए। हमारे समाज में बहुत ही कम ऐसे लोग होते हैं।जो किसी विधवा या तलाकशुदा महिला से शादी करना चाहता है।

विधवा महिला से शादी करने के बाद होने वाले नुकसान कुछ इस प्रकार है-

उनके जीवन में आप उनके पहले पति का स्थान नहीं ले पाएंगे

100 में से केवल 10% महिलाएं ही ऐसी होती है। जो शादी करने के बाद अपने दूसरे पति को अपने पहले पति का स्थान दे देती है।

बाकी की 90% महिला। कभी भी वह अपने पहले पति का स्थान दूसरी शादी करने के बाद अपने दूसरे पति को नहीं दे पाती है। बहुत कम ही पुरुष ऐसे होते हैं। जो विधवा महिला से शादी करने के बाद भी उनके जीवन में पति का स्थान प्राप्त नहीं कर पाते हैं।

विधवा महिला का प्यार हासिल नहीं हो सकता

जो भी व्यक्ति विधवा महिला से शादी अपने भविष्य को देखकर ही करते है। वह व्यक्ति विधवा महिला से शादी करता है। तो भी वह विधवा महिला से वो प्यार नहीं हासिल करता था। जिसका वह हकदार होता‌ है।

विधवा महिला के लिए दूसरी शादी के बाद के पति के परिवार और दोस्तों के लिए एक नए साथी को पेश करने में सहज महसूस करना मुश्किल हो सकता है।

यदि आप विधवा महिला से विवाह करते हैं। तो आपको बहुत सी बातों को स्वीकार करने और उन पर विचार करने की आवश्यकता होगी।

आपको इस तथ्य को स्वीकार करना होगा कि वह अभी भी अपने मृत पति से प्यार करेगी और उसे याद करेगी।

आपको उसे स्वीकार करने और उसका समर्थन करने की आवश्यकता होगी यदि वह आपसे कहते है कि उसे अपने दिवंगत पति की याद आती है।

 उनके बच्चों को स्वीकार करो।उनके बच्चों से प्यार करो और उनकी देखभाल करो और उनके लिए सबसे अच्छे सौतेले पिता बनो।वे भी अब तुम्हारे बच्चे हैं।

क्रूर समाज का सामना करने के लिए तैयार रहें। चूंकि आपकी शादी एक विधवा से होगी, इसलिए आपको यह जानना होगा कि समाज आपके रिश्ते के बारे में सोचेगा। बस याद रखें कि आपका रिश्ता और आपकी पत्नी के साथ और आपकी खुशी अर्थात बच्चे सबसे महत्वपूर्ण चीज हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि दूसरे लोग क्या सोचते हैं, जब तक आप और आपका परिवार खुश हैं, ठीक है।

कभी भी खुद खो नंबर 2 पति ना समझे। हमेशा यह जानिए कि आपकी पत्नी तुम्हें उतना ही प्यार करती है जितना वह अपने मृत पति से प्यार करती है।इसलिए उसने तुमसे शादी की।

अपनी पत्नी/परिवार से प्यार करो।अपनी पत्नी और बच्चों से प्यार करो और उन्हें महत्व दो। उनके साथ सहज और खुश रहो और अपना समर्थन दिखाओ।उस पर शर्म मत करो क्योंकि वह एक विधवा है।उसे / उनसे प्यार करो।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *