रिलेशनशीपलाईफ स्टाइलशादी विवाहसलाह / मार्गदर्शन

क्या अजनबीसे प्यार मिलेगा ?

मेरी समस्या

क्या अजनबीसे प्यार मिलेगा ? मेरा नाम सारिका है, अपनी व्यक्तिगत समस्या का कृपया उपाय बाताईये

मैं 21 साल की एक अविवाहित लड़की हूं। मेरे अलावा मेरे घर में 2 बड़े भाई थे । 

और मैं अकेली छोटी बहन थी। छोटी होने के कारण मुझे उनसे प्यार मिलना चाहिये था,

लेकिन लाड़ प्यार दूर था और किसी ने भी मुझसे सीधे बात नहीं की। 

माँ हमेशा बीमार ही रहती थीं, इसलिए मैंने पढ़ाई के साथ-साथ घर का काम भी किया। 

मेरे भाई आपस में हमेशा झगड़ते और मुझे ही पिटते रहते हैं। सारा ग़ुस्सा मुझपर निकालते है

मेरा यह भाई अपनी बेरोजगारी के कारण शायद तनाव में था मगर मै क्या करु ?

भाई की दिमागी हालत

और एक दिन उसने आत्महत्या कर ली। उनकी मृत्यु के बाद,

माँ का स्वास्थ्य दिन-ब-दिन बिगड़ने लगा और फिर 3 महीने में उनकी भी मृत्यु हो गई। 

6 महिना पहले बड़े भाई की शादी हो गई। मुझे लगा था कि मेरी माँ के चले जाने के बाद,

मेरी भाभी घर आ जाएगी और स्थिति बदल जाएगी। मैं घर के कामों में भी मदद करूंगी। 

शायद जीवन में कुछ राहत मिलेगी, लेकिन स्थिति और भी खराब हो गई। 

भाभी कोई घर का काम नहीं करती। हमेशा अपने मोबाइल से चिपकी रहती है

मेरा काम बढ़ गया है। 

भाभी से नाउम्मीद

जब कोई अच्छा पक्वान्न घर में बनता है, मेरे लिये कुछ नहीं बचता है ,

मेरी माँ की मृत्यु के बाद मेरा अध्ययन अधूरा था। मुझे पढ़ाई करना पसंद है । 

मैं फिलहाल शादी नहीं करना चाहती और मैं पहले सक्षम होना चाहती हूं,

लेकिन भाई और भाभी मुझे नौकरी करने की अनुमति नहीं देते हैं। 

मुझे इस घर में रहने का कोई अधिकार नहीं है। मेरी जिंदगी तो बद से बदतर हो गई है

बचपन से लेकर आज तक मैंने केवल दुःख का अनुभव किया है। 

कभी किसी से प्यार के दो शब्द नहीं सुने। 

मेरे पैदा होने के कुछ दिन बाद ही मेरे पिता की मृत्यु हो गई थी,

मेरी माँ मुझे बदकिस्मत कहती रही। फिर भाइयों ने मारपीट की। 

बाकी का काम भाभी ने किया था। पूरे दिन एक बैल की तरह घर का काम करती हु । 

क्या अजनबीसे प्यार मिलेगा ?

मुझे नहीं पता हैं अब आगे क्या करना है। ये मुझे नौकरि नहीं करने देंगे । 

मैं शादी नहीं करना चाहती , क्योंकि मैंने किसी पर विश्वास खो दिया है। 

जब मेरे घरवाले ही मेरी परवाह नहीं करते तो किसी अजनबी से मै कैसे उम्मीद करू ?

एक बाहरी व्यक्ति पर कैसे भरोसा कर सकती हूं। कभी-कभी मुझे घर से

भागने का मन करता है,

कृपया बताएं, मुझे क्या करना चाहिये ?

हमारी सलाह

यह एक दुर्भाग्यपूर्ण संयोग है कि आपका जीवन बचपन से ही यातनापूर्ण रहा है। 

पिताजी के आकस्मिक निधन से 3 बच्चों की जिम्मेदारी आपकी माँ के कंधों पर आ गई। 

एक अकेली महिला के लिए यह सब करना और जीवन के संघर्षों का सामना करना आसान नहीं है। 

इसके अलावा वह बीमार थी। आपकी समस्या से तंग आकर, वह आपसे नाराज थी । 

जैसे ही आप की शादी की जिम्मेदारी भी आप के भाई पर पड़ी,

आप के साथ हमें सहानुभूति है, मगर घर के सारे लोग असभ्य कैसे हो सकते है ?

कुछ ऐसी बात तो नहीं जो आप हमसे छुपा रही है ?

घर से भागना सही नहीं है। आप और ज्यादा मुश्किल में पड़ सकती हैं। इसलिए यह गलती कभी न करें। 

अपनी सोच को सकारात्मक रखें और जल्द से जल्द विवाह करें। 

आप होनेवाले पति को पहले ही राजी कर सकती है की शादी के बाद आपको आत्मनिर्भर बनाने में मदद करें

यह संभव है कि शादी के बाद आपको वह सारी खुशियां मिलेंगी जो आप आज तक वंचित हैं। 

आपका अपना घर होगा। आपके पास एक परिवार होगा जहां आप सुरक्षित रहेंगे।

  1. बांझपन की या अनेक रिलेटेड संबंधित समस्याए छुडाने के लिए उदबोधन शिबिर में देशी जडीबुटी का इस्तेमाल करके अपनी समस्याए…

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.