आयुर्वेदआरोग्यजड़ी बूटीतनावभविष्यमहिला स्वास्थमोबाइलरिलेशनशीपशादी विवाह

संतान पाने के घरेलू तरीके

शादी के एक-दो साल बाद हर पति-पत्नी की यही इच्छा होती है कि उनकी अपनी संतान हो। जिसका पालन पोषण वह करें। उसे अच्छी शिक्षा दें। उसे अच्छे संस्कार दें। ताकि वह आगे चलकर उनका नाम रोशन कर सकें। लेकिन जब उनके इस सपने पर पानी फिर जाता है। तब बहुत दुख होता है।

यदि आप उन दंपत्ति जैसे हैं। जो शादीशुदा है। फिट भी हैं। लेकिन संतान होने में दिक्कत आ रही हैं। तो आप घरेलू उपचार के द्वारा इस समस्या से मुक्ति पा सकते हैं।

बृहस्पतिवार के दिन उपवास रखें

जिन दंपतियों के बच्चे नहीं हो रहे हैं। उन दंपतियों को प्रत्येक बृहस्पतिवार को उपवास रखना चाहिए। साथ ही कोशिश कीजिए पीले कपड़े पहनने की। यदि आप भूखे नहीं रह सकते तो आप पीले रंग का ही भोजन करें और संभव हो तो गुड़ का दान करें।

मूली अर्पित कीजिए

संतान प्राप्त करने हेतु आपको शिवजी को मूली अर्पित करना होगा। यह मूली आपको एक सोमवार नहीं, दो सोमवार नहीं। बल्कि 40 सोमवार तक शिवजी को अर्पित करना है।

प्रत्येक सोमवार को शिव जी को मूली अर्पित करने से पहले महिला जो मां बनेंगी। उन्हें रात में सोते वक्त अपने तकिए के नीचे मूली को रखना है। फिर अगले दिन सुबह उठकर शिवजी के मंदिर में अर्पित करना है।

छोटे बच्चे के दांत को अपने बांह में बांधिए 

यदि आपके मन में मां बनने की इच्छा है। लेकिन किसी कारण वश आप मां नहीं बन पा रही है। तो इसके लिए आपको एक छोटा सा उपाय करना होगा।

यदि आपको किसी बच्चे का दूध वाला दांत टूटा हुआ मिल जाता है। तो उस दानत को एक सफेद कपड़े में आप बांध दीजिए और फिर उस सफेद कपड़े को आप अपने हाथ के बाह में बांधिए‌।

यदि संभव हो तो सुबह उठकर श्री कृष्ण भगवान के बाल स्वरूप की पूजा कीजिए। जल्द ही आप के मां बनने का सपना पूरा होगा।

पीपल पेड़ की परिक्रमा कीजिए

यदि आप सच में संतान सुख चाहती हैं। तो प्रत्येक दिन पीपल के पेड़ के समक्ष शाम के वक्त दीपक जलाएं एवं पीपल के पेड़ की परिक्रमा कीजिए।

ध्यान रखिए रविवार के दिन पीपल के वृक्ष की परिक्रमा संतान प्राप्त करने हेतु नहीं कर पाएंगी। रविवार को छोड़कर आप प्रत्येक दिन जाकर पीपल के पेड़ की परिक्रमा कीजिए।

मन ही मन हर परिक्रमा करते वक्त संतान सुख की कामना कीजिए। इससे आप की मनोकामना जल्दी पूरी होगी।

गुड़हल के फूल का सेवन कीजिए

गुड़हल का पेड़ आमतौर पर हर जगह मिल जाता है। यदि आप मां बनना चाहती है तो 90 दिन तक गुड़हल के फूल का सेवन हर दिन कीजिए। इससे आपको जीवन में मां बनने का सुख जल्द ही प्राप्त होगा।

ध्यान रखें गुड़हल के फूल का सेवन आपको सुबह उठकर खाली पेट में करना है।

गाय या अन्य जानवरों को  खाना खिलाएं

माता पार्वती को भी संतान प्राप्त करने में बहुत तकलीफ हो रही थी। उन्हीं के हाथों ही भगवान श्री गणेश की उत्पत्ति हुई। यदि आप भी संतान चाहते हैं। तो आपको अवश्य ही, भगवान श्री गणेश की पूजा आराधना करनी चाहिए।

साथ ही कोशिश कीजिए प्रत्येक दिन अपने खाने से गाय एवं अन्य जानवरों के लिए खाना रखने की। उन्हें खिलाने की भी कोशिश कीजिए। यदि आपको गाय का छोटा बच्चा मिले। तो उसको अवश्य ही खाना खिलाएं।

ये उपाय आपके उपचार के पर्याय नहीं है। डॉक्टर या चिकित्सक की सलाह लीजिए। उनके कहे अनुसार ही चले।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.