आधुनिकतनावदुनियालाईफ स्टाइलशादी विवाहसंबंध

मेरे पति का देहांत हो गया अब मै क्या करू?

मैं एक 35 वर्षीय महिला हूं। मेरी शादी एक संपन्न परिवार में हुई थी लेकिन हुआ कुछ यूं कि करोना की वजह से मेरे पति का देहांत हो गया। जिसकी वजह से पूरे घर की जिम्मेदारी बच्चों की जिम्मेदारी मेरे ऊपर आ गई है। उसके ऊपर से हमारे सर पर दो लाख का लोन भी है जो मुझे ही चुकाना पड़ेगा। ऐसे में मुझे समझ नहीं आ रहा है कि मुझे क्या करना चाहिए लेकिन कुछ समय पहले ही एक मेरे लिए रिश्ता आया है

हमारा एक तलाकशुदा रिश्तेदार है जो मुझसे शादी करना चाहता है और वह यह भी कह रहा है कि वह मेरा लोन चुकाने को तैयार है और मेरे बच्चों की जिम्मेदारी भी स्वीकार करने के लिए तैयार है। लेकिन मुझे शादी करने में बहुत ही ज्यादा डर लग रहा है। क्या पता उनके मन में क्या है और क्या नहीं वह किस लिए मुझसे शादी करना चाहते हैं। ऐसी स्थिति में मुझे कुछ भी नहीं समझ आ रहा है कि क्या सही है और क्या गलत है? क्या मुझे अपने बच्चों की जिंदगी उनके हाथ में देनी चाहिए? क्या मुझे उनके साथ शादी करनी चाहिए? ऐसे में मैं क्या करूं आप लोग कृपा अपने सुझाव दीजिए।

मेरे पति का देहांत हो गया अब मै क्या करू?

पहली बात तो यह है कि जिस समय आपके पति का देहांत हुआ होगा उस समय आपके ऊपर और आपके घर वालों के ऊपर बहुत ही ज्यादा दुख का समय रहा होगा। ऐसे में देखा जाए तो आपकी उम्र अभी ज्यादा नहीं है और छोटी सी उम्र में आपके ऊपर बहुत सारी जिम्मेदारियां आ गई है। सबसे बड़ी जिम्मेदारी आपकी आपके बच्चों की तरफ है जो आपको बखूबी निभानी पड़ेगी।

बच्चों की परवरिश बहुत ही नाज से करनी पड़ती है। उनकी परवरिश करने के लिए पूरी जान तक लग जाती है। इसके बावजूद भी कहीं ना कहीं कमी रह जाती है। ऐसे में आप एक अकेली मां है जिसकी वजह से आपको बहुत ही ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

अगर देखा जाए तो आपके लिए शादी का रिश्ता आ रहा है तो इसमें कोई बुराई नहीं है क्योंकि विधवा की शादी करना कोई बड़ी बात नहीं है। अगर आपके बच्चे भी इस बात को स्वीकार कर रहे हैं और उन्हें किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं है तो आप शादी कर सकती हैं, लेकिन शादी करने से पहले आपको अच्छी तरह से जांच पड़ताल करनी होगी।

अपने घर वालों से बात करें

सबसे पहले आप अपने घर वालों से माता-पिता से सास ससुर से और अपने पूरे परिवार से बात करिए। उनके सामने अपनी बात को रखिए शायद वह आपकी बात को समझने का पूरा पूरा प्रयत्न करेंगे। शादी का निर्णय बहुत ही बड़ा निर्णय होता है इसीलिए शादी का निर्णय लेने से पहले पूरी तरह की जांच पड़ताल करना पूरी तरह की जानकारी लेना आपका हक है।

इसी के साथ आप अपने बच्चों के मन की भी सुने आखिरकार वह क्या चाहते हैं। अगर ज्यादा छोटे बच्चे हैं तो वह आपको अपने सुझाव नहीं दे सकते हैं, लेकिन आपके बच्चों की उम्र अगर 7 या 8 वर्ष तक की है तो वह अपने सुझाव अच्छी तरह से दे सकते हैं क्योंकि वह थोड़ा बहुत समझने लगते हैं।

देखा जाए तो बच्चों की परवरिश करने के लिए एक पिता का होना बहुत ही जरूरी होता है। अगर वह व्यक्ति आपके बच्चों का पिता बन कर उनकी सारी जिम्मेदारियां लेने को तैयार है तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छी बात हो सकती है।

भविष्य के बारे में सोचे

अगर आप एक्सपर्ट की राय माने तो सबसे पहले आपको हर तरह की जांच पड़ताल करनी होगी। उसके बाद आप अपने घर परिवार से अच्छी तरह से बात करें। अगर आप खुलकर अपने विचार अपने परिवार वालों के सामने रखेंगे तो वह आपकी सारी परेशानी को समझ पाएंगे। भविष्य के बारे में सोचे

किसी अनजान व्यक्ति से रिश्ता जोड़ने से पहले दिल में बहुत ही घबराहट होती है। इस घबराहट को सुलझाने के लिए आपको बहुत सारे पहलुओं को समझना होगा। सभी बातों पर अच्छी तरह से सोच विचार करना होगा। अपने बच्चों के बारे में अच्छी तरह से सोचे। अपने बच्चों के भविष्य के बारे में सोचें तभी किसी भी प्रकार का कोई निर्णय लें।

अंत में हम केवल इतना ही कहना चाहेंगे कि अगर आप शादी का निर्णय लेती है तो वह गलत नहीं है, लेकिन शादी का निर्णय तभी ले जब आप इस निर्णय से पूरी तरह से सहमत हो। पूरी तरह से जानकारी प्राप्त हो। उसके बाद ही आप शादी करने के लिए हां कीजिए और शादी करना कोई बुराई का काम नहीं है, इससे आपका और आपके बच्चों का भविष्य सुधर जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आपकी राशि कौन सी है? बिना ड्रायवर की कार बहुत चालू होती है इस राशी की महिलायें मांगलिक लड़कि ऐसे पहचाने अमीर औरतोंके महंगे शौक
आपकी राशि कौन सी है? बिना ड्रायवर की कार बहुत चालू होती है इस राशी की महिलायें मांगलिक लड़कि ऐसे पहचाने अमीर औरतोंके महंगे शौक
Close

Adblock Detected

Please remove adblocker