खानपानराजकीयरिलेशनशीपशादी विवाहसलाह / मार्गदर्शन

पति को मेरी बिलकुल फिक्र नहीं

पति को मेरी बिलकुल फिक्र नहीं, उनका एक दोस्त मेरा बहुत ख्याल रखता है। वह मुझसे शादी करना चाहता है। क्या करूं?

शादी के बाद हर पति पत्नी के बीच कुछ ना कुछ प्रॉब्लम होती ही रहती है। लेकिन प्रॉब्लम्स के वजह से हम अपने पति का साथ छोड़कर। उनके दोस्त के साथ जिंदगी में आगे बढ़ने का सपना नहीं देख सकते। कारण पति पति ही होता है और उनका दोस्त कभी आपका पति नहीं बन सकता।

हमारी सलाह  : पति को मेरी बिलकुल फिक्र नहीं

आपके अनुसार आपके पति आपको समय नहीं देते। आपकी चिंता नहीं करते ऐसा आप सोचती है। क्या पता आपके पति आप से भी ज्यादा आप की ही चिंता करते हो। लेकिन वह कभी भी आपको जताते नहीं है कि उनको आपकी कितनी चिंता है। वहीं अगर आपके पति का दोस्त सामने से आकर आपका ख्याल रखना चाहता है और आपसे शादी करने की बात करता है। तो इस बात से आपको समझ जाना चाहिए कि आपके पति का दोस्त कितने खराब चरित्र का व्यक्ति है। जिसे अपने मित्र के पत्नी की चिंता ज्यादा सताती है।

अगर आप अपने पति के दोस्त शादी करती हैं। तो इसकी भी कोई गारंटी नहीं है कि आप उसके साथ खुश रहेंगी। कारण जो इंसान अपने ही दोस्त के घर में डाका डालता है। वह कल किसी और की पत्नी को आपका स्थान नहीं देगा इसकी क्या गारंटी है।

अपने पति का साथ ना छोड़े

कई बार पत्नियां अनजाने में बहुत बड़ी गलती कर जाती है। जब उनके पति उनको अटेंशन देना बंद कर देते हैं। तो उनको ऐसा लगता है कि उनके पति उनसे प्यार नहीं करते हैं। लेकिन ऐसा सोचना गलत है कई बार पुरुष लोग अपने काम के कारण अपना सब कुछ भूल जाते हैं। यहां तक कि खुद को भी भूल जाते हैं। लेकिन वह अपनी शादीशुदा पत्नी को भूल जाएं। ऐसा भी नहीं हो सकता है। क्या पता आप जो सोच रही है वह गलत ही सोच रही है। 

आप के पति आप का ध्यान रखना चाहते हैं। आपसे बात भी करना चाहते हैं। लेकिन किसी कारणवश काम के कारण नहीं कर पा रहे हैं। इसका तो यह अर्थ नहीं हो सकता कि आप उनको छोड़ कर चली जाएं।

किसी अनजान पुरुष पर ज्यादा भरोसा मत कीजिए

आपकी शादी जिस व्यक्ति से हुई है। आप उन्हे ही भली-भांति अभी तक नहीं समझ पाई हैं। तो आप अनजान पुरुष की बातों का यकीन कैसे करेंगी। कई बार ऐसा होता है कि हम जो देखते हैं। वह सच नहीं होता है। सच को देखने के लिए आंखों की नहीं बल्कि आंखों के साथ-साथ बुद्धि की भी ज़रूरत होती है।

अपने पति के दोस्त पर बिल्कुल भी यकीन मत कीजिए क्या पता वह आपके साथ कोई बहुत बड़ा खेल खेल रहे हैं। वह आप से प्यार करने का नाटक कर रहे हैं। जब आप उनके झांसे में आ जाएंगी। तो हो सकता है कि वह आप का गलत फायदा उठाना शुरू कर दें। इसलिए चाहे कुछ भी हो जाएं। जब तक आप की बात आपके पति से नहीं हो जाती है। कहने का तात्पर्य है कि आपके और आपके पति के बीच में जो भी समस्या है। उन समस्याओं को आपस में बैठकर खत्म करने की कोशिश कीजिए और अपने जीवन को नए सिरे से जीने की कोशिश कीजिए।

हाथों की पांच उंगलियां बराबर नहीं होती 

जिस तरह से हाथों की पांच उंगलियां एक समान नहीं होती। उसी तरह से हर इंसान एक जैसा नहीं होता और हर इंसान में हर तरह की खूबी नहीं होती। हर इंसान अपने आप में अलग होता है और आपका पति भी कहीं ना कहीं अलग होगा। आपको उनकी उस खूबी को ढूंढ़ना होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.