भ्रमणरिलेशनशीपलाईफ स्टाइलशादी विवाहसंबंधस्पेशल

शादी करने के बाद क्यों पछतावा क्यों होता है?

लोग शादी करने के बाद क्यों पछताते हैं? शादी का लड्डू जो खाए वह भी पछताए और जो न खाए वह भी पछताए। यह कहावत पूर्ण रूप से मर्दो पर ही लागू होती है। जो शादी से पहले एक्साइटेड होते हैं कि उनकी शादी कब होगी। वही जब उनकी शादी हो जाती है। तब वह निराश हो जाते हैं। उनकी शादी क्यों हुई यह बात सोचकर वह उब दिन को कोसते हैं। जिस दिन उन्होंने शादी करने का निर्णय लिया था। शादी करने के बाद क्यों पछतावा क्यों होता है?

शादी होने के बाद मर्द अक्सर पछतावा क्यों करते हैं?

शादीशुदा मर्द ही अक्सर शादी के बाद सबसे ज्यादा उदास होते हैं। ऐसा क्यों होता है उनके साथ। क्या वह अपनी बीवी से डरते हैं या उन्हें जैसी लाइफ पाटनर चाहिए थी। उनकी लाइफ पार्टनर वैसी ना होने के कारण वह उदास रहते हैं। यह सवाल बहुत ही पेचीदा सवाल है। लेकिन यह सच है कि 10 में से 6 शादीशुदा मर्दों को शादी के बाद केवल पछतावा ही होता है। यह पछतावा इतना गहरा होता है कि कभी-कभी वह डिप्रेशन में भी चले जाते हैं। पर ऐसी भयावह परिस्थिति का मूल कारण क्या होता है?

लड़की हो या लड़का शादी के बाद दोनों की जिंदगी में ही बहुत ही ज्यादा परिवर्तन आता है।शादी के बाद 80% पुरुषों की जिंदगी बद से बदतर हो जाती है। ऐसा उनकी पत्नियों के कारण होता है। जो अपने पतियों को पति कम और अलादीन का जीन समझती हैं।

पत्नियां पतियों को जरूरत से ज्यादा वश में करती है

एक कहावत है ना कि जरूरत से ज्यादा ढील देने पर परिस्थितियां विपरीत हो जाती हैं। कुछ ऐसे ही परिस्थिति पुरुषों की होती है। जो शादी के बाद अपनी पत्नियों को जरूरत से ज्यादा ढील दे देते हैं। जिसका परिणाम उन्हें आजीवन भुगतना पड़ता है।

पत्नियों को हर चीज की आजादी देने पर वहीं आजादी पुरुषों पर भारी पड़ जाती है। कारण पत्नियां उसी आजादी का लाभ उठाकर अपने पतियों को डराती है। उनको धमकाती भी है और उनको अपने वश में करने की कोशिश करती है। ताकि अपनी इच्छा अनुसार उन्हें कंट्रोल कर सकें।

जब पत्नियों का अफेयर चलता है

वह पुरुष सबसे ज्यादा पछताते हैं, शादी के बाद। जिनकी पत्नियों का शादी से पहले ही किसी और के साथ अफेयर चल रहा होता है। जब यह बात पतियों को पता चलती है तब वह बहुत ही ज्यादा चौक जाते हैं। यदि उन्हें पता रहता कि उनकी होने वाली पत्नी किसी और को चाहती है। तो वह शायद शादी ना करते। लेकिन शादी के बाद अफेयर की बात सामने आना ही बहुत तकलीफ देता है। पुरुषों के अंतर्मन तक इस बात का प्रभाव पड़ता है।

डिमांड का अतिरिक्त बढ़ना

जो लड़के हमेशा से एक सुंदर लड़की से शादी करने का सपना देखते थे। जब उनकी शादी हो भी जाती है। तो वह शादी के 1-2 महीने तो बहुत खुश रहते हैं। लेकिन उसके बाद धीरे-धीरे उनकी खुशी में ग्रहण लग जाता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि सुंदर लड़कियों का दिमाग बहुत ज्यादा होता है। इस बात से लड़के बिल्कुल ही अनजान होते हैं। जब वह अपनी पत्नि का डिमांड पूरा नहीं कर पाते हैं। तभी घर में अशांति होती है और यही अशांति पुरुषों को पछतावा करने टर मजबूर कर देता है। आखिर क्यों उन्होंने सुंदर लड़की से शादी करने का फैसला लिया था।

जिंदगी में किसी भी चीज के लिए जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए। खासकर तब जब बात शादी से जुड़ी हो।आप जिससे शादी करना चाहते हैं। उसके बारे में जांच पड़ताल करना चाहिए ताकि आगे जाकर कोई समस्या ना हो।ऊपरी दिखावे से मनुष्य को आंख लेना उचित नहीं होता।आज के ज़माने में सब कुछ जानने के बाद ही शादी करने का निर्णय लेना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.