निजी सीक्रेटपुरुष स्वास्थबिजनेसमनोरंजनमहिला स्वास्थलाईफ स्टाइलसंबंध

जिगोलो मार्केट : गंदा है पर धंदा है

जिगोलो मार्केट से बेरोजगार लड़के कमाते हैं पैसा

जिगोलो एक ऐसा मार्केट है। जिसमें रात होने पर ही हजारों करोड़ों लोगों की भीड़ लग जाती है। यहां दूर-दूर से लोग बोली लगाने आते हैं। अब आप सोच रहे होंगे किसी चीज की नीलामी होती है क्या जो लोग रात में बोली लगाने आते हैं।

बोली तो लगते हैं और नीलामी भी होती है। लेकिन किसी के घर की या किसी के प्रॉपर्टी की नहीं बल्कि इंसानों की बोली लगती है। जी, हां सही सुना आपने इंसानों के बोली लगती है‌। कहने का तात्पर्य जिगोलो मार्केट देह व्यापार वाला एक मार्केट है। जहां पर आधी रात में बड़े घर की औरतें आती हैं और मर्दों की बोली लगाकर उन्हें खरीदती है और अपना काम निपटा कर चली जाती हैं।

क्या पुरुष सच में ऐसा काम करते हैं जिगोलो मार्केट में?

जी, हां दिल्ली के जिगोलो मार्केट में यह काम हर रोज होता है और इस मार्केट में जो भी पुरुष काम करते हैं। वह अपनी इच्छा से करते हैं।

हालांकि बहुत कम लोग ही ऐसे हैं। जिन्हें इस मार्केट के विषय में जानकारी है। लेकिन जो लोग देह व्यापार के व्यवसाय से जुड़े हुए हैं। उन्हें इस मार्केट के विषय में थोड़ी नहीं बल्कि बहुत सारी जानकारी है। कारण यह एक बहुत बड़ा मार्केट है। जहां पर देश एवं विदेश से कस्टमर आते हैं।

मर्दों को कितने पैसे मिलते हैं?

जिगोलो मार्केट में मर्दों की सौदा करने के लिए जो महिलाएं आती हैं। यदि उनकी नजर किसी ऐसे मर्द पर पड़ जाती हैं। जिसकी दीवानी हर औरत हो सकती हैं। तो वह ऐसे मर्दों को हमेशा के लिए खरीद लेती हैं और जब भी वह उनसे अपना काम निपटा लेती हैं।

तब उन्हें इतना पैसा देती हैं कि कोई आम व्यक्ति 1 साल में भी उतना पैसा कमाना चाहे। तो वह नहीं कमा पाएगा जितना कि एक मर्द जिगोलो मार्केट में 1 महीने में कमा लेता है।

एक रात के 3000 से लेकर 15000 तक रुपए मिल सकते हैं। यदि मर्द दिखने में हैंडसम और जिम फिट हो तो।

आखिर क्यों मर्द यहां पर खुद को बेचते हैं?

किसी की मजबूरी होती है। तो कोई अपनी इच्छा से इस मार्केट पर खुद को बेचने आता है। यहां तक कि कुछ मर्दों ने इस पेशे को प्रोफेशनल तरीके से अपना भी लिया है। 

कारण जो पैसा इस मार्केट से व्यक्ति कमा पाता है। वह बाहर कोई अच्छी नौकरी करके भी नहीं कमा पाता है। इस मार्केट से जिस भी पुरुष को अच्छा पैसा कमाने को मिलता है। वह वापस कहीं और जाकर पैसा कमाना चाहेंगे भी तो उन्हें उतना पैसा नहीं मिलेगा। इसलिए दीमक की तरह पुरुष इस मार्केट से चिपके हुए रहते हैं।

देह व्यापार बहुत ही गंदा व्यापार है। लेकिन जो लोग इस व्यापार में शामिल है। उनके लिए यह उनका अपना व्यवसाय है, अपना कार्य है। इसलिए उन्हें इस व्यापार को करने में किसी भी प्रकार का खेद महसूस नहीं होता।

इस काम को रोकना भी मुश्किल है। कारण इस व्यापार में जो महिलाएं बोली लगाने के लिए आती हैं। वह सभी महिलाएं अच्छे घर परिवार की होती हैं और बहुत ही रीच होती हैं। ऐसे परिवार की महिलाओं को फंसाना बहुत मुश्किल काम है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *